सालभर से बन्द पड़ी Jet Airways की फिर से वापिसी, उड़ान भरने के लिए तैयार, जानिए कौन हैं नए मालिक

वित्तीय संकट की वजह से बंद पड़ी जेट एयरवेज 2021 की गर्मियों तक फिर से सेवा शुरू कर सकती है। अब इसके नए मालिक मुरारीलाल जालान हैं। जिनका कई देशों में कारोबार हैं।

नई दिल्ली,1 दिसम्बर 2020: पिछले साल अप्रैल महीने से बंद पड़ी जेट एयरलाइंस (Jet Airways) फिर से नई उड़ान भरने जा रही है। साल 2019 से जेट एयरलाइंस के सभी विमान जमीन पर ही खड़े हैं। बता दें जेट एयरलाइंस भारी वित्तीय संकट की वजह से बंद हो गई थी जिससे काफी लोगों ने अपना रोजगार गंवा दिया था । जेट एयरलाइंस के बंद होते समय एयरलाइंस के कर्मचारियों की आंखों में आंसू जैसी तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी।

वही अब इस एयरलाइंस को फिर से नई उड़ान मिलने वाली है आपको बता दें कि जेट एयरलाइंस के बंद होने के समय इसमें 9000 कर्मचारी कार्यरत थे जिनकी संख्या धीरे-धीरे घटकर 4500 तक आ गई है। लेकिन अब विशेषज्ञों का कहना है कि अगर जेट एयरलाइंस शुरू होती है तो फिर से बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिलेगा।

कौन है जेट एयरलाइंस के नए मालिक:

Murari Lal Jalan

आपको बता दें कि जेट एयरलाइंस के बंद होने के बाद अब जेट एयरलाइंस को कर्ज देने वाली कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स ने लंदन की कंपनी कॉल रॉक कैपिटल और संयुक्त अरब अमीरात के निवेशक मुरारीलाल जालान को नए निदेशक के रूप में चुना है।

मुरारीलाल जालान एमजी डेवलपर्स के मालिक हैं और रियल एस्टेट और पेपर ट्रेंडिंग का कारोबार करते हैं। मुरारीलाल जालान रांची के रहने वाले हैं। उन्होंने अपना व्यवसाई कैरियर एक छोटे से व्यवसाय से कोलकाता में शुरू किया था। अब मुरारीलाल जालान 51 फ़ीसदी साझेदारी के साथ जेट एयरलाइंस के नए मालिक हैं हालांकि वह विमानन क्षेत्र में पहली बार व्यवसाय कर रहे हैं।

होंगी नई भर्तियां:

विशेषज्ञों के अनुसार अगर जेट एयरलाइंस फिर से उड़ान भर्ती है तो विमानन क्षेत्र में भारी संख्या में नए रोजगार पैदा होंगे। हालांकि जब जेट एयरवेज बंद हुई थी तो आधे से ज्यादा कर्मचारी जेट एयरवेज को छोड़कर दूसरी कंपनियों के साथ जुड़ गए थे ऐसे में जेट एयरवेज को शुरू करने से पहले कंपनी को हजारों की संख्या में भर्तियां निकालनी होंगी जिससे कि साल भर से बंद पड़ी यह एयरलाइंस एक बार फिर से उड़ान भर सके।

वही विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि कोरोना म’हामा’री के बीच घरेलू उड़ान शुरू होने से यात्रियों की संख्या पहले के बराबर हो रही है साथ ही धीरे-धीरे जैसे जैसे स्थिति सामान्य होती है तो यह संख्या और बढ़ेगी।

वही जेट एयरवेज के नए ऑनर्स भी पहले घरेलू उड़ान शुरू करने के मूड में है तथा बाद में यूरोप और एशिया तक भी जेट एयरवेज के दमाद फिर से उड़ान भरने लगेंगे।