अब इन शहरों के नाम बदले जायेंगे कही आपका शहर तो नहीं इस लिस्ट में?

भरतीय जनता पार्टी के सत्ता में आने के बाद से ही नाम बदलने का सिलसिला लगातार जारी है. देश भर में अब तक कई रेलवे स्टेशनों के नाम बदले जा चुके है और कई स्टेशनों के नाम बदलने की तैयारियां जारी है. नाम बदलने का सिलसिला खासकर उत्तर प्रदेश में चल रही है. यूपी की सत्ता में आई बीजेपी की योगी सरकार ने तो मानों नाम बदलने का ठेका ही ले रखा है. सीएम योगी लगातार नाम बदलने में जुटे हुए है. अभी हाल ही में मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर दिन दयाल उपाध्याय कर दिया गया था.

इसके बाद अब रेलवे ने इलाहाबाद जंक्शन रेलवे स्टेशन का नाम बदल कर प्रयागराज करने की औपचारिकता भी पूरी कर ली है और बहुत ही जल्द इसका ऐलान भी किया जा सकता है. जबकि शहर का नाम तो पहले ही बदलकर प्रयागराज हो चूका है सिर्फ रेलवे स्टेशन ही बचा था अब वो भी लपेटे में आ ही गया है.

Image Source: Google

राज्य सरकारों और सांसदों से लगातार कई रेलवे स्टेशनों के नाम बदलने के सुझाव मिल रहे है. रेलवे को इन सुझावों पर अमल करने में काफी परेशनी आ रहे है इसलिए रेलवे ने भी मन बना लिया है कि देश भर में एक साथ एक ही झटके में कई रेलवे स्टेशनों के नाम बदल दिए जाएगें.

दरअसल रेलवे को किसी स्टेशन का नाम बदलने के लिए रिजर्वेशन सिस्टम, कोडिंग सिस्टम, आईआरसीटीसी के सॉफ्टवेयर समेत सात जगहों पर बदलाव करना होता है. बार बार सॉफ्टवेयर में बदलाव करने में रेलवे को खासी मशक्कत झेलना पड़ता है और पैसा खर्च होता है वह अलग.

इसी से बचने के लिए रेलवे ने गृह मंत्रालय के माध्यम से राज्य सरकारों से ऐसे सभी स्टेशनों के नामों की लिस्ट मांगी है जिनके शहरों के नाम जिला मुख्यालयों के नाम से अलग है. देश में बहुत से ऐसे स्टेशन है जिनके नाम शहरों के नाम से अलग है जिसमें से कुछ तो हाल ही में शहरों के नाम बदलने के वजह से अलग अलग हो गए है.

Image Source: Google

हाल ही में फ़ैजाबाद का नाम अयोध्या कर दिया गया जबकि रेलवे स्टेशन का नाम अभी भी फ़ैजाबाद ही है. इसी तरह पश्चिम बंगाल के शहर सिल्लीगुड़ी के रेलवे स्टेशन का नाम न्यूजलपाईगुड़ी है. वहीं यूपी के संत कबीर नगर के रेलवे स्टेशन का नाम खलीलाबाद के नाम पर है. अब इन्हें शहरों के नाम पर ही किया जाएगा.