अमेरिका की नई उप-राष्ट्रपति ‘कमला हैरिस’ का क्या है भारत से इतना गहरा नाता

56 वर्षीय भारतवंशी कमला हैरिस ने अमेरिका की राजनीति में एक नया इतिहास रच दिया है. वह अमेरिका में उपराष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित होने वाली पहली महिला हैं. यही नहीं, हैरिस देश की पहली भारतवंशी, अश्वेत और अफ्रीकी अमेरिकी उपराष्ट्रपति होंगी.‘फीमेल ओबामा’ के नाम से लोकप्रिय हैरिस सीनेट की सदस्य भी पहली बार ही बनी थीं.

जब एक साल पहले राष्ट्रपति पद की रेस में कमला हैरिस ने अपने प्र’तिद्वं’द्वी रहे जो बाइडन की जमकर आलोचना की थी. लेकिन साल 2019 के आखरी में उनका प्रचार अभियान ठंडा पड़ता चला गया. और कमला हैरिस का राष्ट्रपति बनने का सपना टूट गया. लेकिन फिर हैरिस के पास सिर्फ डेमोक्रेटिक पार्टी के टिकट पर कमाल दिखाने का एक ही मौक़ा था.

कौन हैं भारतवंशी कमला हैरिस? जानें हैरिस के बारे में कुछ बड़ी बातें.

kamla

राष्ट्रपति चुनाव के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उम्मीदवार रहे जो बाइडेन ने अगस्त में 56 वर्षीय भारतवंशी कमला हैरिस को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना। और आज उन्होंने जीत दर्ज कर ली है.

आपको बता दें अमेरिका की उप राष्ट्रपति चुने जाने से गदगद कमला हैरिस ने अपने समर्थकों को तहे दिल से धन्यवाद किया है. कमला हैरिस ने कहा कि ये मेरे और जो बाइडन के लिए ये चुनाव बेहद महत्वपूर्ण था. कमला हैरिस ने कहा की हमें अमेरिका के लिए बहुत कुछ करना है हमें आगे बहुत काम करना है.

अमेरिका के कैलिफोर्निया के ओकलैंड में 20 अक्टूबर 1964 को जन्मी कमला हैरिस की मां 1960 में अमेरिका को छोड़ कर भारत के तमिलनाडु से यूसी बर्कले पहुंची थीं. कमला हैरिस के पिता डोनाल्ड जे हैरिस 1961 में ब्रिटिश जमैका से इकोनॉमिक्स में स्नातक की पढ़ाई करने यूसी बर्कले आए थे।

कमला और उनकी बहन माया को उनकी मां ने पाला.

अमेरिका छोड़ कर भारत आने के कुछ सालों बाद जब कमला हैरिस सिर्फ सात साल की थीं, तो उनके माता-पिता का तलाक हो गया था. कमला हैरिस और उनकी बहन को उनकी मां श्यामला गोपालन ने परवरिश की.

कमला हैरिस के माता-पिता का तलाक होने के बाद कमला हैरिस का छोटी सी उम्र में भारत आना जाना लगा रहता था कमला हैरिस अपने दादा से बहुत प्यार करती थीं जो भारत में एक बड़े सरकारी अधिकारी थे. उनके दादा ने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा भी लिया था.

आपको बता दें अमेरिका की उप राष्ट्रपति चुने जाने से गदगद कमला हैरिस ने कहा है कि ये मेरे या जो बाइडेन के चुनाव से कहीं बड़ी बात है. कमला हैरिस ने इस मौके पर अपनी मां को याद किया. कमला ने कहा कि आज मेरी यहां मौजूदगी के लिए जो महिला सबसे बड़ी वजह है वो है मेरी मां श्यामला गोपालन जिनका में दिल से धन्यवाद कहना चाहती हैं.