नॉर्थ कोरिया में मिला पहला कोरोना पॉजिटिव, क्रूर तानशाह ने लागू किये खूंखार लॉकडाउन नियम, जानकर कांप जाएगी रूह

नॉर्थ कोरिया में मिला पहला कोरोना पॉजिटिव, क्रूर तानशाह ने लागू किये खूंखार लॉकडाउन नियम, जानकर कांप जाएगी रूह

दुनिया इस समय घा’तक वायरस कोरोना से जूझ रही है, अमेरिका जैसे बड़े और शक्तिशाली देश भी कोरोना वायरस के आगे घुट’ने टेकने पर मजबूर होते नजर आ रहे हैं. दुनिया भर से इस वायरस के लाखों मामलें रोज सामने आ रहे है. ऐसे समय में अब तक इस वायरस से सुरक्षित रहने वाले नौर्थ कोरिया में भी वायरस ने दस्तक दे दी है. कोरोना दुनिया भर में दिसंबर माह से अपना आतं’क मचा रहा है लेकिन उत्तर कोरिया अभी तक इस वायरस को देश में घुसने से रोकने में कामयाब रहा.

लेकिन अब वायरस फैसले के सात महीनों बाद नॉर्थ कोरिया में पहला कोरोना पॉजिटिव मामला सामने आया है. हालांकि मामला सामने आते ही नॉर्थ कोरिया के तानाशाह ने कई बड़े और कड़े फैसले लिए है. आपको बता दें कि इससे कुछ महीनों पहले यहां पर एक संदिग्ध कोरोना मरीज मिला था.

तानाशाह के आदेश पर इस कोरोना संदिग्ध की गो’ली मा’रकर ह’त्या कर दी गई थी ताकि देश में कोरोना वायरस ना फ़ैल सके. अब देश में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद कई बड़े फैसले लिए गए है. नॉर्थ कोरिया ने देश में स्टेट ऑफ़ इमरजेंसी लगाने की घोषणा कर दी है.

इसके साथ ही नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने तुरंत एक आपातकालीन बैठक बुलाई. जिसके बाद काएसोंग शहर में कंप्लीट लॉकडाउन लागू कर दिया गया. यही से कोरोना का पहला मरीज मिला है.

बताया जा रहा है कि यह मरीज साउथ कोरिया से वापस नॉर्थ कोरिया लौटकर आया था. खबरों के अनुसार यह शख्स तीन साल पहले नॉर्थ कोरिया से भगा था. इसके बाद जब साउथ कोरिया में कोरोना तेजी से फैला तो यह गैरकानूनी तरीके से बॉर्डर क्रॉस करके यहां आया.

अभी तक नॉर्थ कोरिया अपने आप को कोरोना फ्री बताता रहा था लेकिन अब इस मरीज के मिलने के बाद तानाशाह काफी सख्ती बरत रहे हैं. वहीं नॉर्थ कोरिया के स्टेट न्यूज एजेंसी KCNA ने अपनी खबर में इस शख्स की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं बताई है. खबर में लिखा गया है कि इसे साँस लेने में प्रॉब्लम है और इसमें कोरोना के लक्षण देखे गए हैं.

इसके साथ ही इस शख्स को क्वारेंटाइन करके यह पता लगाया जा रहा है कि यह इस दौरान किस-किस के संपर्क में रहा है. इस मरीज के साथ पूरी सख्ती से पूछताछ की जा रही है.

बताया जा रहा है कि मीटिंग के दौरान तानशाह ने कहा कि जानलेवा कोरोना वायरस को देश में फैलने से रोकने के लिए हर जरुरी सख्त कदम उठाए जाएगा. इसके साथ ही यह तय किया गया है कि जो भी शख्स बिना मास्क के बाहर नजर आयगा उसे तीन महीने के लिए कठो परिश्रम के साथ जेल में डाल दिया जाएगा.

आपको बता दें कि नॉर्थ कोरिया में 30 जनवरी से अपने सारे बॉर्डर्स सील कर रहे हैं. इसके साथ ही बाहर देश से किसी के आने और देश से किसी को बाहर जाने पर पुर्णतः रोक लगा दी गई हैं. इसके आलावा और भी कई कड़े नियम लागू करके जहां कोरोना को कन्ट्रोल किया गया हैं.