गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ झड़प में आर्मी के कर्नल सहित तीन जवान शहीद, चीन ने भारतीय सेना पर लगाया यह आरोप

भारत और चीन की सीमा लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर तनाव लगातार बना हुआ हैं. पिछले कई दिनों से बनी तनातनी अब हिं’सक झड़प में बदल गयी हैं. खबरों के अनुसार लद्दाख के गलवान घाटी में चीन के सैनिकों से हुई झड़प के दौरान भारतीय सेना के कर्नल और सेना के दो जवान शही’द हो गए हैं. वहीं इंडिया टुडे के रिपोर्ट के अनुसार इस दौरान 11 सैनिक घायल भी हुए हैं उन्हें इलाज़ मुहैया कराने के लिए ले जाया गया है.

भारतीय सेना की तरफ से जारी अधिकारिक बयान के अनुसार 15 जून की रात को गलवान घाटी में डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के समय भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिं’सक झड़प हो गई. इसी दौरान भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए हैं. वहीं इससे पहले सरकार ने सीमा पर सब कुछ सही बताया था लेकिन सब कुछ ठीक लग नहीं रहा हैं.

अब इस मामले को लेकर भारत और चीन के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी बैठ करके तनाव कम करने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने इस मामले को लेकर आपालकालीन बैठक बुलाई हैं.

सिंह लद्दाख मसले को लेकर चीफ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत, तीनों सेना प्रमुख और विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ बैठक कर रहे हैं. वहीं AFP की खबर के अनुसार भारत ने कहा है कि इस सं’घर्ष के दौरान दोनों ही तरफ लोग हताहत हुए हैं.

वहीं इंटरनेशनल न्यूज़ एजेंसी रायटर्स के अनुसार इस मामले को लेकर चीन के विदेश मंत्रालय ने भारत से कहा है कि कोई भी एकतरफ़ा कारवाई न करें या परेशानी बढ़ाएं.

चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा कि बॉर्डर क्रॉस करने या एकतरफा कारवाई से बॉर्डर के हालात जटिल बन सकते हैं. उन्होंने आग्रह किया कि भारत सैनिकों को सख्ती करने से रोका जाए. इस मसले को चीन और भारत आपसी बातचीत के जरिए सुलझाने के लिए सहमत हैं. इसके साथ ही चीन ने भारतीय सेना पर LAC पार करके चीनी सैनिकों पर हमला करने का आरोप लगाया है.