खाड़ी देशों में इस्लाम और मुस्लिम के ख़िलाफ़ नफ़रत फ़ैलाने वालों की लिस्ट बनाने की अपील, बोले इन्हें इनके घर भेजा जायेगा

रियाद: दुनिया भर के 200 से भी ज्यादा देश कोरोना वायरस जैसी ख’तरना’क बीमारी से लड़ने में अपनी पूरी ताकत झोंके हुए हैं. सैकड़ों लोग इस म’हामा’री का शिकार हो चुके हैं. और हजारों लोग इसकी वजह से मौ’त के मुंह में समा चुके हैं. आज यह वक्त है जब सारी दुनिया के लोगों को मतभेद को भुलाकर एकजुट होकर मुस्तैदी से इस बीमारी से लड़ने की लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं. जो इसके बहाने साम्प्रदा’यिकता को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं।

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में 3 मई तक के लॉकडाउन की घोषणा कर रखी है. वही इन सब हालातों के बीच सोशल मीडिया पर समुदाय विशेष को लेकर जो चर्चा हो रही है. उस पर गल्फ़ कंट्रीज़ की भी निगह टिक गई है. कुवैत के बाद सऊदी अरब और सऊदी अरब के बाद अब यूनाइटेड स्टेट खबर सामने आ रही है. जिसमें मुसलमानों के हालात पर बड़ा बयान सामने आया है।

सऊदी विद्वान आबिदी ज़हरानी ने अनुयायियों से उन सभी हिंदुओं को सूचीबद्ध करने का अनुरोध किया जो जीसीसी में काम कर रहे हैं और इस्लाम, मुसलमानों या पैगंबर मोहम्मद (पीबीयूएच) के खिलाफ नफरत फैला रहे हैं। उन्होंने #Send_Hindutva_Back_home टैग का भी उपयोग किया।

आबिदी ज़हरानी ने एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, खाड़ी राज्य लाखों भारतीयों की मेजबानी करते हैं, जिनमें से कुछ सं’क्रमित हैं. COVID-19 को उनके विश्वास की परवाह किए बिना नि: शुल्क व्यवहार किया जाता है, जबकि हिन्दुत्व आ’तंकवा’दि’यों के गिरोह, मुस्लिम नागरिकों के खिलाफ अपराध कर रहे हैं।

कॉल का जवाब देते हुए, उनके अनुयायियों ने मध्य पूर्व में काम करने वाले कर्मचारियों के स्क्रीनशॉट साझा करना शुरू कर दिया, बता दें इससे पहले, यूएई की राजकुमारी हेंड अल कासिमी ने उन लोगों को चेतावनी देते हुए लिखा, यहां सभी कर्मचारियों को काम करने के लिए भुगतान किया जाता है, कोई भी मुफ्त में नहीं आता है। आप इस जमीन से अपनी रोटी और मक्खन बनाते हैं जिसे आप खाते हैं और आपका उपहास नहीं होगा।

तबलीगी जमात की घटना को लेकर मुसलमानों को निशाना बनाते हुए कई ट्वीट पोस्ट करने वाले सौरभ उपाध्याय के स्क्रीनशॉट को साझा करते हुए, राजकुमारों ने लिखा कि ऐसे लोगों पर जुर्माना लगाया जाएगा और साथ ही गल्फ़ कंट्रीज़ में रह रहे ऐसे लोगों को चिन्हित कर भगाया जायेगा।

Leave a Comment