VIDEO: जो बाइडेन ने सत्ता सँभालते ही, ट्रंप के 34 मंजिला प्लाज़ा को ज़मींदोज़ किया

अमेरिका के अटलांटिक शहर में स्थित ये प्लाजा अपने कसीनो के लिए जाना जाता था. 3000 डा'यनामा'इट की मदद से इस इमारत को ज़मींदोज़ किया

दिसंबर में हुए चुनावों में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को हार का मुंह देखना पड़ा था राष्ट्रपति ट्रंप को उनके निकटवर्ती प्रतिद्वंदी जो बाइडन ने हराया ने था। बता दें डोनाल्ड ट्रंप ने 2014 में राष्ट्रपति का पद संभाला था। राष्ट्रपति ट्रम्प अक्सर अपने वि’वा’दित बयानों को लेकर काफी सुर्खियों में रहते थे। अब खबर आई है कि डोनाल्ड ट्रंप के अंटार्कटिका स्थित प्लाजा को 3000 डा’यनामा’इट की सहायता से तोड़ा दिया गया है।

बता दें 1984 में शुरू किया गया इस प्लाजा को 2014 में बंद कर दिया गया था। बिल्डिंग की जर्जर हालत को देखते हुए शहर के मेयर मल्टी स्मॉल ने इस बिल्डिंग को तोड़ने का आदेश दिया था यह बिल्डिंग तूफानों के कारण ज’र्जर स्थिति में आ गई थी। इस बिल्डिंग को तोड़ते हुए उसके तोड़ने के वीडियो को लाइव स्ट्रीमिंग करने की सुविधा भी की गई थी। जिससे अब उसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

बता दें इस बिल्डिंग को ढहाने में महज 20 सेकंड का कुल समय लगा। बिल्डिंग को ढ’हाने के तुरंत बाद ही म’लबे का एक पहाड़ बन गया जिसकी ऊंचाई लगभग 8 मंजिली इमारत के बराबर है। वहीं आपको यह भी बता दें कि ट्रम्प का यह प्लाजा हॉलीवुड की एक फिल्म ओशन 11 में भी नजर आ चुका है इस फिल्म में मैड डैमन जैसे सितारों ने काम किया था।

इस प्लाजा में इवेंट मैनेजर के तौर पर काम कर चुकी बर्न ढि’ल्लन कहती हैं कि प्लाजा में पॉप स्टार माराडोना से लेकर कई सितारे शिरकत कर चुके हैं। अब प्लाजा में इवेंट मैनेजर के तौर पर काम कर चुकी बर्न ढिल्लन कहती हैं कि जिस तरह से ट्रंप प्लाजा और अटलांटिक सिटी को पूरी दुनिया के सामने पेश किया गया वह अविश्वसनीय था।

लेकिन अब इस राजा को ढहा दिया गया है। वही ट्रंप प्लाजा के ढहने के बाद अब अटलांटिक मेयर का कहना है कि हम प्लाजा के ढहने से इतना मलवा इकट्ठा हो गया कि उसे पता नहीं मैं जून तक का समय लग जाएगा। लेकिन अब ट्रंप का यह शानदार प्लाजा अटलांटिक शहर में दिखाई नहीं देगा।

पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली 'बुशरा त्यागी' पिछले 5 वर्षों से एक Freelancer न्यूज़ लेखक (Writer) के तौर पर कार्य कर रही हैं। 16 साल की उम्र से ही इन्होंने शायरी, कहानियाँ, कविताएँ और आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था।