मध्यप्रदेश में उपचुनाव से पहले गरमाई सियासत, कांग्रेस ने सिंधिया समेत 22 विधायकों को भेजीं चूड़ियां

मध्यप्रदेश में 24 सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं जिनकी तारीखें अभी तक घोषित नहीं की गई हैं. लेकिन इससे पहले ही सूबे में सियासी घमासान रफ्तार पकड़ता जा रहा हैं. सूबे की दोनों ही मुख्य पार्टियों ने कमर कस ली हैं. कांग्रेस ने सोमवार से लोकतंत्र बचाओ अभियान शुरू किया हैं जिसके तहत पूर्व कांग्रेसी मुख्यमंत्री कमलनाथ की सरकार को गिराने वाले दिग्‍गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके सहयोगी 22 पूर्व विधायकों को चूड़ियां भेजी गई हैं.

कांग्रेस के प्रदेश सचिव राकेश सिंह यादव ने जानकारी देते हुए कहा कि कमलनाथ की चलती हुई सरकार गिराने वाले 22 पूर्व विधायकों और पूर्व कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को सबक सिखाने के लिए इंदौर से लोकतंत्र बचाओ अभियान की शुरुआत की गई है.

इस अभियान में कई गांधीवादी विचारक, 25 से 30 सामाजिक कार्य करने वाली संस्थाएं और 40 से 50 खेल संगठन भी शामिल हुए हैं. यह सभी लोग और संगठन सूबे में होने वाले उपचुनाव वाली विधानसभा सीटों का दौरा करेंगे और लोगों को यह बताएंगे कि बप में शामिल होने वाले इन 22 पूर्व विधायकों ने किस तरह लोकतंत्र के मंदिर को कलंकित किया हैं.

उन्होंने आगे कहा कि इस अभियान के दौरान बताया जाएगा कि इन लोगों ने ही जनता पर जबरन चुनाव थोपा हैं. इन नेताओं को सबक सिखाने के उद्देश्य से ही इनकी विधानसभा क्षेत्रों में यह अभियान चलाया जाएगा.

लोकतंत्र बचाओ अभियान के संयोजक नियुक्त किये गए राकेश सिंह यादव ने बताया कि इन दलबदलू पूर्व विधायकों को उनके क्षेत्र में जाकर ही चूड़ियां भेट की जाएंगी.

सभी 22 विधानसभा क्षेत्रों में इसके लिए कार्यकर्ता द्वारा चूड़ियां भेंट की जाएगी. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर अभियान छेड़ा जाएगा.

उन्होंने बताया कि फ़िलहाल इंदौर से बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया समेत सभी 22 पूर्व विधायकों को चूडियां कूरियर के जरिए भेजी गई हैं. इसके साथ ही जनता से अपील करेंगे कि वह 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में इन दलबदलुओं का सहयोग न करें.

इसका कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि यह सबके सब बिकाऊ उम्मीदवार हैं और यह भरोसे के लायक नहीं हैं. इसलिए इन्हें हराकर लोकतंत्र को बचाने का काम किया जाना चाहिए.

वहीं इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी नेता और शिवराज सरकार में जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि सबसे पहले तो कांग्रेस अपने आपको को बचा ले फिर लोकतंत्र बचाने की बात करे. उन्होंने पूरा विश्वास जताते हुए कहा कि सूबे की सभी 24 सीटें बीजेपी ही जीतेगी.