दं’गा भड़काने की बड़ी साजिश हुई नाकाम, मंदिरों के दरवाजों पर फेंका मां’स, फेंकने वाला हरीराम…

बीते कई सालों से देश में धर्म और जातिवाद के नाम पर होने वाली हिं#साओं में बढ़ोत्तरी हुई है. पिछले कुछ सालों में भी’ड़ द्वारा ह#त्या के भी कई मामले देखने को मिले है. इनमें से कई मामलों में साजिश का अंदेशा लगाया जाता रहा है और कई मामलों में साजिश का पर्दाफाश भी हुआ है. किसी समुदाय विशेष के लोगों को निशाना बनाने के लिए अफवाहों का सहारा लिया जाता है और इन्हीं अफवाहों से भी’ड़ को उकसाया जाता है और फिर बात हिं#सा तक पहुंच जाती है.

कोयम्बटूर में एक व्यक्ति ने समाज में स्थापित शांति को भं’ग करने और सां’प्रदा’यिक उन्माद फैलाने की मंशा से दो मंदिरों में सू’अर का मां’स रखा लेकिन किस्मत से इस शख्स की मंशा पूरी ना हो सकी और यह पुलिस के हाथों चढ़ गया.

कोयंबटूर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए इस शख्स का नाम हरीराम प्रकाश है. हरिराम ने शहर में दं#गे भ’ड़काने की साजिश रची थी लेकिन उसके इरादे कामयाब नहीं हो सके.

पुलिस के अनुसार हरीराम प्रकाश ने कोयंबटूर के सुलिवान इलाके में स्थित दो मंदिरो कृष्णास्वामी मंदिर और श्री राघवेंद्र मंदिर सुलिवन के गेट पर सू’अर का मां’स रखा जिससे स्थानीय हिन्दू और मुस्लिमों में दं#गा भ’ड़क उठे.

आपको बता दें कि मंदिर के दरवाजों पर मां’स मिलने की इस घटना ने शहर के शांत माहौल को गर्म कर दिया था और कई हिं’दू सं’गठ’नों के कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करना भी शुरू कर दिए थे. लेकिन सीसीटीवी फुटेज से मामला साफ हुआ.

सीसीटीवी फूटेज के आधार पर पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी को पकड़ लिया. सीसीटीवी के आलावा एक फूल बेचने वाले व्यक्ति ने भी हरिराम प्रकाश को मंदिर के गेट पर थैला रखते हुए देखा था लेकिन उसे लगा कि शायद वह थैले में मंदिर के लिए फूल रख रहा होगा.

वहीं पुलिस पूछताछ के दौरान हरीराम प्रकाश ने मंदिर में मां’स रखने की बात क़ुबूल कर ली है. वहीं जिला प्रशासन ने नगर निगम से एक टीम बुला कर दोनों मंदिरों की साफ सफाई और साथ ही सेनेटाइज करा दिया हैं. वहीं मंदिर प्रबंधन से जुड़े लोगों ने भी हल्दी मिश्रित पानी का छिडकाव करके मंदिर को शु’द्ध किया.

बता दें कि साल 2015 में यूपी के दादरी नामक गांव में दो लोगों के साथ मंदिर में मां#स फेकने को लेकर मा’रपी’ट की गई थी. इस दौरान एक व्यक्ति की मौ#त हो गई है. इस घ’टना के बाद ना सिर्फ दादरी बल्कि पुरे यूपी में कई जगह दं#गे देखने को मिले थे.