VIDEO: महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने फर्जी खबर चलाने के आरोप में ‘टाइम्स नाउ’ पर केस करने का आदेश दिया

मुंबई: मुंबई के बांद्रा रेलवे स्टेशन के पास मंगलवार को हजारों प्रवासी मजदूरों के इकट्ठा होने के मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. वही इस मामले में जांच शुरू होने के साथ ही पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में भी लिया है। आपको बता दें बांद्रा स्टेशन के बाहर जमा हुई भी’ड़ के मामले में पुलिस ने तीन एफआईआर दर्ज की हैं। बुधवार तक दो लोगों को गिरफ्तार किया जा चूका है।

बता दें मुंबई पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए लोगों में से एक विनय दुबे जिसे कोर्ट ने 21 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। विनय को आज स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया मुंबई पुलिस का मानना है कि आरोपी विनय ने ही प्रवासी मजदूरों को उकसाया, जिसकी वजह से मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर मजदूरों का सैलाब उमड़ पड़ा और फिर स्थिति पर काबू पाने के लिए पुलिस को ला’ठीचा’र्ज करनी पड़ी।

Anil Deshmukh
महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख

मुंबई पुलिस की तीन प्राथमिकी में से एक में 1000 मजदूरों, दूसरी विनय दुबे और तीसरा मराठी टीवी चैनल एबीपी माझा के पत्रकार के खिलाफ दर्ज की गई है। मराठी टीवी चैनल एबीपी माझा के पत्रकार राहुल कुलकर्णी को उस्मानाबाद से हिरासत में लेकर मुंबई लाया गया है। पत्रकार पर आरोप है कि उन्होंने अपने चैनल पर रेल सेवाओं के बहाल होने की फर्जी खबर चलाई थी।

times now

द हिन्दू की खबर के अनुसार महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को घोषणा की है कि महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अवध की बेटी का COVID-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया जा रहा है, उनके बारे में फ़र्ज़ी खबर प्रसारित करने के लिए अंग्रेजी समाचार चैनल टाइम्स नाउ के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

THNAKMAHARASHTRAMINISTERJITENDRAAWHAD
महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अवध

इस मामले को लेकर महाराष्ट्र पुलिस के महानिदेशक श्री देशमुख ने संबोधित पत्र में कहा कि श्री अवध ने उन्हें चैनल द्वारा फर्जी समाचार प्रसारण के संबंध में एक पत्र भेजा था।

मंत्री ने कहा कि कानून के अनुसार एक मरीज का नाम लेना निषिद्ध है। उन्होंने कहा, ‘इसके अलावा, महिला पी’ड़ित का नाम रखने की अनुमति नहीं है। प्रश्न में व्यक्ति ने नकारात्मक परीक्षण किया है, जिसके बावजूद उसके सकारात्मक परीक्षण के बारे में फर्जी खबर प्रसारित की गई थी।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रिपोर्टर, न्यूज एंकर और चैनल के खिलाफ फर्जी खबरें फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

Source: thehindu