कोरोना महामारी में बेतुके बयान देने वाले ये नेता-मंत्री देश को कहाँ ले जाना चाहते हैं?

कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है अब देश भर में मोटा-माटी 50,000 नए मामले रोज सामने आ रहे है. इससे साफ है कि अब स्थितियां हाथ से निकलती जा रही है. देश के अलग-अलग हिस्सों में स्वास्थ्य व्यवस्था का हाल बुरा हो चुका है और बीमारी अब संभाले नहीं संभल रही है. वहीं इस महामारी की शुरूआत से ही देश के नेता और मंत्री इसे कितनी गंभीरता से ले रहे थे इसका अंदाजा हम उनके बेतुके, अतार्किक और असंवेदनशील बयानों से ही लगा सकते हैं.

कोरोना महामारी के बीच कई नेताओं ने लापरवाही से भरे बेतुके बयान दिए है. साथ ही आम लोगों के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे निर्देश जारी किये गए लेकिन नेता और मंत्री खुलेआम इनकी धज्जियां उड़ाते नजर आए. इस तरफ जहां दुनिया भर के नेता इसे गंभीरता से ले रही हैं, वहीँ भारत में नेताओं की गंभीरता का अंदाजा आप उनके बयानों से खुद लगा सकते हैं.

इसकी शुरूआत जनता कर्फ्यू वाले दिन से ही हो गई थी, जब खुद पीएम मोदी ने ताली-थाली बजाने के कहा. कर्फ्यू से एक दिन पहले पीएम मोदी ने कहा कि 22 मार्च को जनता कर्फ्यू होगा और सभी को शाम ठीक 5 बजे अपने घर के दरवाजे, खिड़की या बालकनी के पास खड़े होकर 5 मिनट तक ताली या थाली बजाकर कोरोना वॉरियर्स का धन्यवाद करना है.

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने प्रशासन से लोगों को इसकी याद दिलाने के लिए भी कहा. लेकिन इसके बाद पुरे देश में जगह-जगह रैलियां निकाली गई. ढोल-नगाड़े बजे, सड़कों पर लोगों का जन सैलाब उमड़ पड़ा. कई जगह तो स्थानीय नेताओं ने भी रैलियां निकाली और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती नजर आई.

वहीं भोपाल से बीजेपी की सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कोरोना ख’त्म करने के लिए लोगों से 5 अगस्त तक दिन में पांच बार हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए कहा है. प्रज्ञा का कहना है कि ऐसा करने से कोरोना महामारी का दुनिया से अं’त हो जाएगा. उन्होंने एक वीडियो भी ट्वीट किया.

इसमें उन्होंने कहा कि देश भर में जब हिन्दू एक स्वर में हनुमान चालीस का पाठ करेंगे तो यह निश्चित रूप से यह काम करेगा और हमें कोरोना वायरस से मुक्ति मिल जाएगी. यह भगवान राम से आपकी प्रार्थना होगी. कुछ इसी तरह का बयान कुछ दिनों पहले कांग्रेस नेता रमेश सक्सेना ने भी दिया था.

सक्सेना ने कहा था कि मैं दावे के साथ कहना चाहता हूं कि अगर कोई भी परिवार सभी सदस्यों के साथ 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ करता है जिसमें मुश्किल से आधे घंटे लगता है तो उन्हें कोरोना छू भी नहीं सकता है.

बीजेपी नेता और एमपी विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कहा कि भगवान राम ने मानव जाति के कल्याण हेतु राक्षसों को मारने के लिए पुनर्जन्म लिया था. जैसे ही राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा कोविड महामारी का विनाश भी शुरू हो जाएगा.

इसी बीच ईद की नमाज़ को लेकर सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने भी बकरीद की नमाज़ मस्जिदों में अदा करने की पैरवी करते हुए कहा था कि जब तक देश के सभी मुस्लिम मस्जिदों में जाकर नमाज अदा करके दुआ नहीं मांगेंगे, तब तक कोरोना को नहीं भगाया जा सकता है.

इसी तरफ जब कोरोना वायरस भारत में फैलना शुरू हुआ था उसी समय राज्यसभा सांसद रामदास अठावले ने गो कोरोनो गो जैसा नारा देकर अजीबों-गरीब काम किया था जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.

इसी दौरान हिंदू महासभा ने गौमूत्र पार्टी कराई थी. हिन्दू महासभा ने दिल्ली में कोरोना वायरस से बचने के लिए यह अनोखा तरीका ढूंढ़ा था. इस पार्टी में कई लोग शामिल हुए और गोमूत्र भी पिया.