बड़ी खबर: संसद में पहली बार गृह मंत्रालय का ऐलान, देश में NRC को लेकर लिया गया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: देशभर में नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन (NRC) लागू होगा की नहीं होगा? इस सवाल को लेकर मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लोकसभा में लिखित बयान दिया है. गृह मंत्रालय का कहना है कि अभी तक देशभर में NRC लागू करने का फैसला नहीं लिया गया है। आपको बता दें कि विपक्ष के द्वारा लगातार इस मसले पर सवाल खड़ा किया जा रहा था और मोदी सरकार पर निशाना साधा जा रहा है।

संसद सदस्य चंदन सिंह और नमा नागेश्वर राव ने प्रश्न किया था कि क्या सरकार की पूरे देश में एनआरसी लाने जा रही है? गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने सवाल के जवाब में लोकसभा में अपने लिखित जवाब में ये बात कही है। उनकी ओर से कहा गया है कि अभी तक पूरे देश में एनआरसी कराने को लेकर ना कोई फैसला हुआ है और ना ही कोई तैयारी शुरू हुई है।

लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्रालय का जवाब

गौरतलब है की संसद के बीते सत्र में केंद्र सरकार नागिरकता संशोधन कानून लेकर आई थी। तभी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देशभर में एनआरसी कराने की भी बात कही थी। शाह के इस बयान के बाद पूर्वोत्तर के कई राज्यों और देश के अन्य हिस्सों में हिं’सक विरोध प्रदर्शन हुए थे। असम, त्रिपुरा और बंगाल में सबसे ज्यादा हिं’सा हुई थी।

संसद में नागिरकता संशोधन कानून पास होने के बाद से ही देशभर में इसका भारी विरोध हो रहा है। एनआरसी को लेकर लगातार लोग सवाल कर रहे हैं। हाल ही में एक चुनावी रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा था कि अभी तक एनआरसी को लेकर कोई बैठक नहीं हुई है। कोई बात नहीं की गई लेकिन विपक्ष लोगो को गुमराह कर रहा है।

बता दें अब गृह मंत्रालय ने भी कहा है कि अभी नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन (NRC) की तैयारी नहीं हुई है। बजट सत्र का मौजूदा सत्र एनआरसी और सीएए को लेकर अब तक हंगामेदार रहा है।

संसद में विपक्ष लगातार सीएए और एनआरसी पर विरोध दर्ज करा रहा है। सोमवार को कांग्रेस सदस्यों ने नारेबाजी की थी। उससे पहले राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान भी कांग्रेस ने विरोध जताया था।

Leave a Comment