VIDEO: शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से बात करने पिस्तौल लेकर पहुंचा शख्स, मची अफरातफरी महिला प्रदर्शनकारियों ने…

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के विरोध में देशभर में प्रदर्शनों की पहचान बन चुके दिल्ली के शाहीन बाग में लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस प्रदर्शन में महिलाओ के साथ-साथ पुरुष भी शामिल हैं। प्रदर्शनों की पहचान बन चुके शाहीन बाग से हर रोज़ कई बड़ी खबरें सामने आ रही हैं। यहां तक कि मीडिया को भी प्रदर्शनकारी अलग अलग रूप से देख रहे है।

लेकिन इसी बीच शाहीन बाग से बड़ी खबर सामने आ रही है। मंगलवार को एक व्यक्ति प्रदर्शनकारियों से बात करने लाइसेंसी पिस्तौल के साथ पहुंच गया। इसके बाद लोगों में अफरातफरी मच गई जिसका वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक प्रदर्शनकारियों ने यहां चेकिंग के दौरान पिस्टल लेकर घुसने की कोशिश कर रहे एक शख्स को पकड़ा और उसे यहां से भगा दिया।

CAA के विरोध में शाहीन बाग में महिलाएं और बच्चे

शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन बंद करवाने पिस्तौल लेकर पहुंचा शख्स

गौरतलब है कि दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाएं, पुरुष और बच्चे पिछले 43 दिनों से ज्यादा समय से धरने पर बैठे हैं। वो चौबीसों घंटे यहां धरने पर बैठे हैं. उनकी मांग है कि केंद्र सरकार इस विवादित कानून को वापस ले. लेकिन वही दिल्ली पुलिस प्रदर्शनकारियों से लगातार आम जनता की परेशानियों को समझते हुए धरना खत्म कर लेने की कोशिश कर रही है।

आपको बता दें शाहीन बाग में पिछले एक महीने से भी ज्यादा समय से लोग प्रदर्शन कर रहे है। इस प्रदर्शन में बच्चे, बूढ़े, महिलाओं के अलावा विभिन्न विश्वविद्यालयों के छात्रों और विपक्षी पार्टियों के नेता भी शामिल हो रहे हैं। दिल्ली समेत पूरे देश में इस सीएए के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन की चर्चा है।

हाल ही में भाजपा आईटी सेल जिसे फर्जी सामग्री फैलाने के लिए जाना जाता है। इसी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने धरने पर बैठी महिलाओं को लेकर दावा किया था है कि कांग्रेस द्वारा प्रायोजित ‘शाहीन बाग प्रदर्शन’ पैसे लेकर किया जा रहा है। जहाँ धरना दे रहीं महिलाएं शिफ्ट के हिसाब से इस धरने में आती हैं।

अमित मालवीय के अनुसार शाहीन बाग में प्रत्येक शिफ्ट के लिए हर एक महिला को 500 से 700 रुपये दिए जाते है। हलाकि वायरल वीडियो के अनुसार हन्हें रुपये कौन दे रहा है, न तो इसका कोई खुलासा हुआ और न ही इस वीडियो की सत्यता अभी तक साबित हो पाई है।

Leave a Comment