बीजेपी सरकार पर छाए संकट के बादल, उप मुख्‍यमंत्री समेत चार मंत्रियों ने दिए इस्तीफे, कई विधायक और मंत्री…

मणिपुर में भारतीय जनता पार्टी की गठबंधन सरकार को करारा झटका लगा है. बुधवार को मणिपुर के उप मुख्यमंत्री वाई जयकुमार सिंह समेत नेशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) के सभी चार मंत्रियों ने सूबे की बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार से इस्तीफा दे दिया. सरकार से इस्तीफे के बाद यह सभी सूबे की विपक्षी पार्टी कांग्रेस में शामिल हो गए. इन इस्तीफों से बीजेपी सरकार को गहरा झटका लगा हैं.

खबरों के अनुसार सूबे के उपमुख्यमंत्री वाई जॉय कुमार सिंह ने सरकार से अलग होने का फैसला लिया और त्यागपत्र दे दिया. उनके आलावा आदिवासी और पहाड़ी क्षेत्र के विकास मंत्री एन कायिसी, युवा मामले और खेल मंत्री लेतपाओ हाओकिप और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री एल जयंत कुमार सिंह ने भी अपने पदों से इस्तीफे दे दिए है.

 

बता दें कि मणिपुर सरकार में वाई जॉय कुमार सिंह ने वित्त विभाग की जिम्मेदारी भी संभाल रखी थी. राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह को सौंपे अलग-अलग पत्रों में राज्य के पूर्व मंत्रियों जॉयकुमार, हाओकिप और कायिसी ने बयान भी जारी किए.

उन्होंने अपने बायान में कहा कि मैं यह बताना चाहता हूं कि मैंने मणिपुर की बीजेपी नीत गठबंधन सरकार के कैबिनेट मंत्री से अपना इस्तीफा सीएम को सौंप दिया है. वहीं इसी दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए जॉयकुमार सिंह ने कहा कि सीएम को हमने अपना आधिकारिक इस्तीफा पत्र सौंप दिया है.

वहीं इसी बीच बीजेपी विधायक एस. सुभाषचंद्र सिंह, टीटी हाओकिप और सैम्युअल जेंदाई ने भी बीजेपी का साथ छोड़ कर कांग्रेस का थमन थाम लिया है. बता दें कि पिछले साल ही बीजेपी के गठबंधन सहयोगी नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) ने सीएम एन बीरेन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार से समर्थन वापस लेने का ऐलान किया था.

वहीं मौजूदा समय में 60 सदस्यों वाली मणिपुर विधानसभा में अब बीजेपी के सिर्फ 18 विधायकों का समर्थन हासिल है. ऐसे में अब बीजेपी सरकार संकट में आ गई है और इसके गिरने की संभावनाओं से भी इनकार नहीं किया जा सकता है. वहीं विधानसभा चुनाव में 28 सीटें प्राप्त करने वाली कांग्रेस सरकार बनाने का दावा ठोकने जा रही हैं.