सचिन तेंदुलकर, अक्षय कुमार समेत अन्य सेलिब्रिटीज पर गा’ज गिरी, उद्धव सरकार ने दिए जांच के आदेश

उद्धव सरकार का फैसला लता मंगेशकर सचिन तेंदुलकर विराट कोहली और अक्षय कुमार समेत अन्य सेलिब्रिटीज के ट्वीट्स की होगी जांच.

नई दिल्लीः जबसे अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया है, तब से रिहाना सोशल मीडिया से लेकर जमीन से जुड़े कई संगठनों के निशा’ने पर आ गई हैं. अब रिहाना के खिलाफ भारत में एक और अधिकारिक शि’कायत दर्ज की गई है।

किसान आंदोलन के समर्थन में पॉप स्टार रिहाना के ट्वीट करने के बाद बॉलीवुड से लेकर खेल से जुड़ीं कई हस्तियों ने ट्वीट् किए जाने के मामले में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने किसान आंदोलन पर एक अनोखा बयान दिया है। जिसमें राज ठाकरे ने केंद्र सरकार को नसीहत दी है।

उद्धव सरकार खुफि’या विभाग से कराएगी ट्वीट की जांच

राज ठाकरे ने कहा की केंद्र सरकार को आंदोलनकर्ता किसानों के समर्थन में ट्वीट करने वाली अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना, मिया खलीफा और ग्रेटा थ’नबर्ग जैसी कई विदेशी हस्तियों पर पलटवार के लिए चलाए गए अपने अभियान में लता मंगेशकर और सचिन तेंदुलकर को नहीं उतारना चाहिए था।

ठाकरे ने कहा है कि लता मंगेशकर और सचिन तेंदुलकर भारत रत्न हैं, उनकी अपनी प्रतिष्ठा है और सरकार को इसका ध्यान रखना चाहिए था। वही अब इस मामले को लेकर महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने बड़ा कदम उठाया है।

महाराष्ट्र सरकार ने इन सेलिब्रिटीज द्वारा किये गए ट्वीट्स को लेकर जांच के आदेश दिए हैं। पिछले दिनों विदेश मंत्रालय द्वारा प्रतिक्रिया दिए जाने के बाद बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार अजय देवगन लता मंगेशकर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर समेत कई हस्तियों ने ट्वीट्स किए थे।

आपको बता दें बालीबुड से लेकर खेल जगत से जुडी कई हस्तियों द्वारा किये गए ट्वीट्स में उन्होंने इंडिया टु’गे’दर और इंडिया अगेंस्ट प्रोपेगैं’डा के हैशटैग भी लगाए थे। बता दें कि सचिन तेंदुलकर और लता मंगेशकर को भारत रत्न के सम्मान से भी नवाजा जा चुका है।

वही महाराष्ट्र सरकार ने इन ट्वीट्स के खिलाफ इंटेलि’जें’स विभाग को जांच करने के लिए कहा है। इन ट्वीट्स की शिकायत कांग्रेस ने की थी और आरोप लगाया था कि ज्यादातर ट्वीट्स का एक ही पै’टर्न था।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कांग्रेस के डे’लि’गे’शन को यह आश्वासन दिया कि महाराष्ट्र पुलिस का इंटे’लिजेंस विभाग भारतीय हस्तियों के ट्वीट्स की जांच करेगा और पता करेगा कि क्या इस तरह के ट्वीट के लिए बीजेपी ने कोई दबाव डाला था।

आपको बता दें किसान आंदोलन के समर्थन में पॉप स्टार सिंगर रिहाना के एक ट्वीट के बाद कई अन्य विदेशी हस्तियों ने ट्वीट्स किए थे। जिसके बाद विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा था कि जल्दबाजी में कॉमेंट करने से पहले तथ्यों की जांच की जानी चाहिए।

वहीं, इसके तुरंत बाद ही कई बालीबुड सेलिब्रिटीज ने ट्वीट करने शुरू कर दिए थे। जिसमें क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने लिखा था, भारत की संप्रभु’ता से किसी भी तरह से समझौता नहीं किया जा सकता है। बाहरी ताक’तें देख सकती हैं, लेकिन इसमें हिस्सा नहीं ले सकती हैं। भारतीय भारत को जानते हैं और भारत को लेकर फैसले ले सकते हैं। एक देश के तौर पर हम एक रहते हैं।

पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली 'बुशरा त्यागी' पिछले 5 वर्षों से एक Freelancer न्यूज़ लेखक (Writer) के तौर पर कार्य कर रही हैं। 16 साल की उम्र से ही इन्होंने शायरी, कहानियाँ, कविताएँ और आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था।