शाहीन बाग: रास्ता खुलवाने पहुंचे कई हिंदूवादी संगठन, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

नई दिल्लीः नागरिकता कानून (CAA) और एनआरसी के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में जारी धरना प्रदर्शन लगभग 50 दिनों से चल रहा है. आज यहां पर कई हिन्दू संगठनों को प्रदर्शन करना था. लेकिन पुलिस ने इजाजत नहीं दी थी, इसके बाद इन्होंने अपना प्रदर्शन रद्द कर दिया। हलाकि शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन में तनाव की स्थिति तब पैदा हो गई जब रास्ता खुलवाने के लिए प्रदर्शन स्थल पर कुछ लोग पहुंच गए थे।

प्रदर्शन स्थल अचानक कई लोग आ गए और शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों के खिलाफ धरने पर बैठ गए. ये लोग नोएडा से कालिंदी कुंज को जाने वाली सड़क को खोलने की मांग कर रहे थे इसी दौरान विवाद बढ़ता देख मौके पर भारी मात्रा में पुलिस बल भी तैनात किया गया वहीं डीसीपी (साउथ ईस्ट) चिन्मय बिश्वाल भी मौके पर पहुंच गए हैं।

शाहीन बाग की सुरक्षा बढ़ाई गई, भारी पुलिस बल तैनात

जानकारी के मुताबिक शाहीन बाग में बंद रास्ते को खुलवाने के लिए हिंदूसेना सहित कई अन्य संगठनों के लोग इक्ट्ठा हुए हैं। इन सभी लोगों ने पुलिस से भी मुलाकात की थी, हालांकि पुलिस ने हालात न बिगड़े इसलिए इऩ्हें प्रदर्शन स्थल पर जाने से रोक दिया था लेकिन इसके बावजूद भी कुछ लोग घटना स्थल पर पहुंचे।

इसके बाद स्थानीय लोग भी इक्ट्ठा हो गए। फिलहाल हालात न बिगड़ें इसके लिए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। वही पुलिस के मुताबिक यहां पर भीड़ बढ़ती गई और कुछ ही देर में महिलाएं भी आ गई. पुलिस इन लोगों को समझाने की कोशिश करती रही लेकिन ये नहीं माने. ये लोग सड़क पर बैठ गए और शाहीन बाग खाली करो के नारे लगाने लगे।

इस दौरान वहां मौजूद कुछ लोगों ने वंदे मातरम और देश के गद्दारों को…गो’ली मा’रो…जैसे नारे लगाए. पुलिस के कहने पर जब ये लोग नहीं माने तो इन्हें बसों में भरकर ले जाया जाने लगा. हालांकि, अभी भी कई लोग वहीं पर मौजूद हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं।

इस दौरान यहां सुरक्षा चाक चौबंद कर दी गई है. बड़ी संख्या में दिल्ली पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए हैं। हालात को देखते हुए यहां पर पैरामिलिट्री फोर्स की तैनाती भी की गई है।

Leave a Comment