मस्जिद के पास भगवा झंडा लहराने की खबर को कवर करने गए तीन पत्रकारों से मा’रपी’ट, मचा बबाल

उत्तर-पूर्व दिल्ली में इस साल की शुरुआत में दं#गे भ’ड़’क गए थे. 11 अगस्त मंगलवार को यहां तीन पत्रकार न्यूज़ कवर करने के लिए पहुंचे थे लेकिन लोगों ने पत्रकारों के साथ जमकर मा’र पी’ट की, साथ ही उन्हें जा’न से मा’र देने की ध’मकी भी दी हैं. मामला उत्तर पूर्व दिल्ली के सुभाष मोहल्ले का बताया जा रहा है. इलाके में कारवां मैग्जीन के तीन पत्रकार वहां मस्जिद के पास भगवा झंडा लहराए जाने की खबर की सच्चाई पता लगाने और उसे कवर करने गए थे.

लेकिन इसी दौरान स्थानीय लोगों ने उनके साथ पहले ध’क्का मु’की की और फिर उनके साथ मा’र पी’ट की. वहीं मामले की जानकरी मिलते ही दिल्ली पुलिस के आला अधिकारीयों ने स्वतंत्र पत्रकार प्रभजीत सिंह, कारवां के फोटो एडिटर शाहिद तंत्रय और एक महिला रिपोर्टर को भी#ड़ सुरक्षित बचा कर निकला.

जिसके बाद पुलिस इन तीनों को वहां से निकालकर भजनपुरा थाने ले गई. उत्तर पूर्व दिल्ली के डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या ने कहा कि वो लोग वहां एक न्यूज स्टोरी को लेकर रिपोर्ट करने गए थे लेकिन इसे लेकर इलाके के लोग काफी नाराज़ को गए. जिसके बाद पुलिस की मदद से उन तीनों को सुरक्षित निकाला जा सका.

वहीं जनसत्ता के अनुसार पुलिस के कहा कि हमें खबर मिली है कि उनके साथ मा’र पी’ट भी की गई है हालांकि किसी को कोई ज्यादा चो’ट नहीं पहुंची है. उन्होंने कहा कि एफआईआर दर्ज करने से पहले हम छानबीन कर रहे है, हमें फ़िलहाल इस बात की सही जानकारी नहीं है कि वो वहां क्यों गए थे?

वहीं पत्रकार तंत्रय ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि जब हम लोग वीडियो शू’ट कर रहे थे, उसी दौरान वहां दो युवक आए और पूछने लगे कि वीडियो क्यों बना रहे हो? हमने उन्हें बताया कि हमें कॉल पर सूचना मिली है कि यहां मस्जिद के पास भ’गवा झंडा लहराया जा रहा है.

इस पर उन्होंने पूछा कि उसका नाम बताओ जिसने तुम्हे कॉल किया जिस पर हमने मना कर दिया. इसके बाद उन्होंने मुझे और जिसने कॉल किया उसे जा’न से मा’रने की ध’मकी दी. उस शख्स ने थोड़ी ही देर में वहां करीब सौ से भी अधिक लोगों को बुला लिया. उन्होंने हमें घेर लिया.

इसके बाद हम दोपहर के 2 बजे से लेकर करीब 3:30 बजे तक वहीं फं’से रहे. वह शख्स बार बार हम से आई कार्ड मांग रहा था. जब उसने कार्ड पर मेरा नाम देखा तो वो भड़’क उठा और हमें ग’लियां देने लगा.

वहीं पत्रकार प्रभजीत सिंह ने बताया कि भी#ड़ ने तंत्रय के कैमरे को छीनने का प्रयास किया और उसके साथ मा’र पी’ट की. तं’त्रय के अनुसार लोग उसे कैमरे से वीडियो और फोटो डिलीट करने के लिए ध’मका रहे है और जब उसने उनका कहा नहीं माना तो उसे घुसे और तमाचा मा’रने लगे.

साभार- जनसत्ता