मोदी सरकार ने फूटी कौड़ी नहीं दी, हमने प्रवासी मजदूरों को अपने खर्चे से भेजा: उद्धव ठाकरे

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक बार फिर से केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला हैं. उद्धव लगातार बीजेपी सरकार पर निशाना साध रहे हैं. इसी कड़ी में रविवार को ठाकरे ने बीजेपी का नाम लिए बिना कहा कि ऐसे संकट के समय में भी जो लोग ओछी राजनीति करने पर उतारू हैं वो शौक से करें लेकिन मेरी सभ्यता, मेरी संस्कृति मुझे ऐसे समय संक’टकाल में राजनीति करना नहीं सिखाती हैं.

उन्होंने कहा कि मैं अपनी पूरी लगन के साथ जनता की सेवा करता आया हूँ और आगे भी करूंगा. उद्धव ने केंद्र की मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि प्रवासी मजदूरों को घर भेजने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से अभी तक एक फूटी कौड़ी भी नहीं आई है जबकि महाराष्‍ट्र सरकार ने करोड़ों रुपए खर्च किए हैं.

ठाकरे ने बताया कि सूबे की सरकार ने प्रवासियों को उनके गांवों तक पहुंचाने के लिए स्‍पेशल ट्रेनों में सरकारी खजाने से पैसे देकर काम किया है और अभी भी किया जा रहा हैं. उद्धव ने यह बयान एक जनता को संबोधित करते हुए दिया.

इस दौरान उद्धव ने केंद्र पर आरोप लगते हुए कहा कि मोदी सरकार ने राज्य को जीएसटी के पैसे भी अभी तक नहीं दिए हैं. प्रवासियों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए रेलवे के किराए के रूप में जिस पैसे का भुगतान किया जाना है वह भी अभी तक नहीं दिए गए हैं.

ऐसे में राज्य ही अपने खर्च से सारी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहा हैं. लेकिन कुछ लोग ऐसे भयानक कोरोना संकट के समय में भी घटिया राजनीति करने पर उतर आए हैं.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस का सबसे गहरा प्रभाव महाराष्ट्र में ही देखने को मिला हैं. सूबे में अब तक कोरोना मरीजों की तादात 47 हजार के पार पहुंच चुकी हैं. जबकि इस बीमारी के कारण 1500 से ज्यादा लोग इस दुनिया को अलविदा कह चुके हैं.

महाराष्ट्र में भी अब लॉकडाउन में ढील दी जा चुकी हैं हालांकि देश की तरह सूबे में ही कोरोना की मरीजों की तादात तेजी से बढ़ने लगी हैं. मुंबई में घरेलू उड़ानों की अनुमति भी दी जा चुकी हैं.

साभार- नवभारत