कोरोना सं’क्रम’ण से लड़ रहे मोहम्मद इकराम हुसैन का निधन, गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- मौ’त की सूचना पाकर अत्यंत दुःखी हूँ

नई दिल्लीः कोरोना की इस महा’मा’री की रोकथाम में जुटे कोरोना वारियर्स भी कोरोना की चपेट में आते जा रहे है. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के एक 55 वर्षीय जवान सब इंस्पेक्टर मोहम्मद इकराम हुसैन की मौ’त हो गई है. सीआरपीएफ की ओर से जानकारी दी गई है कि जवान की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बीते हफ्ते इकराम हुसैन को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बता दें केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आंतरिक सुरक्षा और सीमा सुरक्षा के लिए काम करने वाले केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) या अर्धसैनिक बलों के लगभग 10 लाख कर्मियों में से कोरोना के कारण यह पहली मौ’त हुई है. वही सीआरपीएफ जवान की मौ’त पर मंगल को गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट करके अपना शोक जाहिर किया है।

गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा -कि कोरोना सं’क्र’मण से लड़ रहे बहादुर सब-इंस्पेक्टर मोहम्मद इकराम हुसैन के नि’धन की सूचना से अत्यंत दुखी हूं. वह अंत समय तक कोरोना महामारी से पूरी वीरता से लड़े। देश की सेवा व आंतरिक सुरक्षा के लिए उनका योगदान हम सभी देशवासियों को प्रेरित करता है।

उन्होंने कहा मैंने परसों ही सब-इंस्पेक्टर इकराम हुसैन के परिजनों से फोन पर बात कर उनका कुशलक्षेम जाना था देश के एक बहादुर जवान को खोना हम सभी के लिए एक अपूरणीय क्षति है. मैं उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ. दुख की इस घड़ी में पूरा देश और केंद्र सरकार उनके परिवार के साथ खड़ी है।

सब-इंस्पेक्टर इकराम हुसैन की तैनाती 31 वीं बटालियन में थी। बता दें कि इस बटालियन के करीब 23 अन्य कर्मियों को कोरोनोवायरस के लक्षण की आशंका के आधार पर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Leave a Comment