अब नेपाल ने इस राज्य के क्षेत्र पर किया दावा, उखाड़ा सीता गुफा का पिलर, सेना अलर्ट

नेपाल ने एक बार फिर से भारतीय जमीन पर दावा ठोका कर एक और विवाद खड़ा कर दिया हैं. दरअसल भारत और नेपाल के बीच पिछले काफी समय से सीमा को लेकर विवाद चल रहा हैं. इस बार नेपाल ने बिहार के एक हिस्से पर अपना कब्जा जताया हैं. इतना ही नहीं नेपाल ने सीता गुफा के पास एक पिलर को उखाड़ दिया है जिससे तनाव की स्थिति बन गई हैं. इस बात की जानकरी स्थानीय लोगों ने प्रशासन को दी.

वहीं जानकारी मिलने के बाद एसएसबी के जवान और पदाधिकारी मौके पर पहुंचे. नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली द्वारा किये गए दावे का समर्थन अब नेपाली नागरिक भी करने लगे हैं.

जिसके चलते अब भारत-नेपाल सीमा पर स्थित भगवान राम से जुड़े स्थलों पर भी नेपाली नागरिकों ने दावा किया है जिससे दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति बढ़ने लगी हैं.

बिहार के पश्चिमी चंपारण में भारत नेपाल सीमा के भिखनाठोड़ी में नेपालियों ने सीमा पर लगे 436 नंबर पीलर को उखाड़ फेंका है. खबरों के अनुसार नेपाल स्थित ठोरी में परसा जिले के सीडीओ और प्रदेश के दो मंत्रियों ने दौरा किया गया.

इसी दौरे के बाद जब मंत्री और अन्य लोग चले गए तब नेपाली नागरिकों ने नेपाली पुलिस की मौजूदगी में भारतीय सीमा में लगे पीलर को उखाड़ दिया.

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि नेपाली नागरिकों द्वारा आने वाले दो दिनों में सीता गुफा में पूजा अर्चना करने की तैयारी शुरू हो गई हैं. नेपाली नागरिकों का दावा है कि सीता माता इस गुफा में कुछ दिन रुकी थी और यहीं से फिर वाल्मीकि आश्रम गई थी.

आपको बता दें कि पंडई नदी के बीचोबीच पहाड़ पर स्थित इस सीता गुफा में अब तक दोनों ही देश के लोग पूजा अर्चना करते रहे हैं, लेकिन नेपाल सरकार के विवादित बयान के बाद सीमावर्ती इलाके में स्थित भगवान राम व सीता से जुड़े स्थानों को लेकर नेपाली नागरिक अपना दावा करने लगे हैं.

वहीं एसएसबी ने पीलर उखड़े जाने की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन के साथ-साथ आला अधिकारियों को जानकारी दे दी हैं. बताया जा रहा है कि सेना के जवान सीमा पर मुस्तैदी के साथ तैनात है और पल-पल के घटनाक्रम पर नजर बनाए रखे हैं.

साभार- भास्कर