नीतीश कुमार 15 साल की सत्ता के बाद भी हैं सबसे बड़े किरदार, सीएम ने किया बड़ा एलान, सरकार बनी तो...

नीतीश कुमार 15 साल की सत्ता के बाद भी हैं सबसे बड़े किरदार, सीएम ने किया बड़ा एलान, सरकार बनी तो…

बिहार में विधानसभा चुनावों के चलते चुनावी मौसम बना हुआ है, हर तरफ नेताओं का आना-जाना लगा हुआ है. चुनावी दौर में चुनावी घोषणाएँ भी जोर-शोर से चल रही है. ऐसी ही एक बड़ी घोषणा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी एक रैली के दौरान की. सूबे के मोकामा विधानसभा क्षेत्र के घोसवरी डीह में की गई सभा के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने कई बड़े चुनावी वादे किये.

मोकामा में दिये चुनावी भाषण के दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि यहां के लोगों के चलते ही लोग मुझे जानते हैं, मैं कभी भी यह नहीं भूल सकता हूं कि मई पांच बार बाढ़ से सांसद रहा हूं.

इसी रैली की दौरान नीतीश कुमार ने छात्राओं की पढ़ाई पर जोर देते हुए एक महत्वपूर्ण घोषणा की है. सीएम कुमार ने कहा कि हमने अपनी सत्ता के दौरान किसी भी इलाके की उपेक्षा नहीं की हैं. टाल की एक-एक योजना को पूरा किया गया है.

मुख्यमंत्री की चुनावी सभा के दौरान महिलाओं की मौजूदगी काफी अधिक देखने को मिली. कुछ महिलाएं इस दौरान सीएम के संबोधन का वीडियो बनाती हुई भी नजर आई.

इसी बीच सीएम ने महिलाओं के स्वयं सहायता समूह की ताकत पर बात करते हुए कहा कि अगर हम एक बार फिर से आए तो योजना यह हैं कि इंटर पास करने वाली बच्चियों को 25 हजार और बीए पास करने वाली छात्राओं को 50 हजार रूपये की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाए.

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वो फिर से आते हैं तो हर खेत को पानी पहुंचाना भी सुनिश्चित करेगें. सीएम यहां से चुनावी मैदन में उतरे राजीव लोचन उर्फ़ अशोक बाबू के समर्थन में प्रचार करने के लिए पहुंचे थे.

इस दौरान सीएम कुमार ने अशोक बाबू के पिता वेंकटेेश बाबू को याद करते हुए कहा कि उन्होंने भारतीय जतना पार्टी में रहते हुए भी मेरी बहुत मदद की थी. उनके यहां पर अटल बिहारी वाजपेयी आए हुए थे.

बीजेपी के प्रत्याशी के मैदान में होने के बाद भी वेंकटेश बाबू ने मेरे लिए अटल जी का आशीर्वाद मांगा था. जिसके बाद अटल जी ने उन्हें कहा कि चलिए, जो कांग्रेस के प्रत्याशी को ह’रा दे उसे ही जिता दीजिए.

साभार- जागरण