शाहीन बाग प्रदर्शन: 2 महीने से बंद नोएडा-फरीदाबाद रोड को खोला, लेकिन कुछ देर बाद पुलिस ने किया बंद

नई दिल्ली: दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध प्रदर्शन के खिलाफ प्रदर्शनकारियों और सुप्रीम कोर्ट के नियुक्त किए वार्ताकारों के बीच शुक्रवार को फिर से बातचीत होगी। इस बीच शाहीन बाग से एक बड़ी खबर सामने आई है। दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता कानून के विरोध प्रदर्शन की वजह से बंद कालिंदी कुंज-फरीदाबाद सड़क को शुक्रवार को कुछ देर के लिए खोला गया है।

गौरतलब है की शाहीन बाग में पिछले 69 दिन से बंद पड़े कालिंदी कुंज से फरीदाबाद और जैतपुर की तरफ जाने वाले रास्ते को खोल दिया। लेकिन कुछ मिनटों के बाद यूपी पुलिस ने फिर बैरिकेड लगा दिया। यह रास्ता नोएडा के महामाया फ्लाईओवर से दिल्ली और फरीदाबाद की तरफ जाता है।

दरअसल इस रूट पर एक बस खराब हो गई थी, जिसकी वजह से इस सड़क को करीब 40 मिनट के लिए खोला गया लेकिन उसके बाद इसे फिर बंद कर दिया गया। वहीं, दूसरी ओर दिल्ली के शाहीन बाग में बंद रास्ता खुलवाने के लिए गुरुवार को मध्यस्थ साधना रामचंद्रन और संजय हेगड़े पहुंचे थे. उन्होंने आंदोलनकारियों से बातचीत की थी।

वही साधना रामचंद्रन ने कहा था कि आपने बुलाया इसलिए हम वापस आए कल दादियों का हमें आशीर्वाद मिला। हम सब हिंदुस्तान के नागरिक हैं। हमें समझकर चलना होगा. आपको समझना होगा कि सीएए का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट के सामने आएगा।

उन्होंने बंद सड़क के मुद्दे पर बातचीत शुरू की संजय हेगड़े ने कहा कि किसी को तकलीफ़ हो रही है तो सब मिल जुलकर रास्ता निकालें कुछ ही देर बाद साधाना रामचंद्रन ने मीडिया की मौजूदगी पर आपत्ति जताई. इसके बाद मीडिया के प्रतिनिधि धरनास्थल से बाहर चले गए।

बता दें कि कालिंदी कुंज की तरफ की रोड नंबर 13 A फ़िलहाल अभी भी बंद है। इस रास्ते पर शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी अभी भी मौजूद हैं। गौरतलब है कि दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ 13 दिसंबर से ही प्रदर्शन हो रहा है। प्रदर्शन की वजह से नोएडा और फरीदाबाद को जोड़ने वाला यह रास्ता बंद था।

Leave a Comment