नोटबंदी पर भाजपा नेता का बड़ा खुलासा, हजारों करोड़ के घोटाले का सच सामने आया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2016 के लास्ट में एक बड़ा ऐलान करते हुए नोटबंदी करने का ऐलान किया था. इसके पीछे तर्क देते हुए पीएम मोदी ने कहा था कि इससे कालेधन पर नकेल कसी जा सकेगी. लेकिन अब उनके इन दावों की पोल उन्हीं की पार्टी के नेता खोल रहे है. इतना ही नहीं इन राजनेताओं का दावा है कि नोटबंदी के दौरान हजारों करोड़ रूपये का घो’टाला हुआ था.

नोटबंदी को लेकर बीजेपी नेता और पूर्व आईटी अधिकारी पीवीएस शर्मा ने बड़ा खुलासा किया है जिससे सियासत में खलबली मच गई है. बीजेपी नेता पीवीएस शर्मा ने दावा करते हुए कहा कि पीएम मोदी द्वारा की गई नोटबंदी के ऐलान के बाद गुजरात के सुरत के कालेधन वालों ने अपनी ब्लैक मानी को सफ़ेद कर लिया.

pvs sharma

शर्मा ने बड़ा दावा करते हुए कहा कि सिर्फ सूरत में ही नोटबंदी के बीच दो हजार करोड़ रुपये का घोटा’ला किया गया था. उन्होंने कहा कि यह घो’टाला आयकर के अधिकारियों, बिल्डर्स, सीए और ज्वैलर्स द्वारा किये गए थे.

बीजेपी नेता पीवीएस शर्मा ने अपने ट्वीट में नोटबंदी के वक्त बैंक में जमा हुए करोड़ों रुपये और मनी लॉन्ड्रिंग के द्वारा कुछ स्थानीय ज्वैलर्स पर पैसे बनाने का आरोप लगाया है. इसके साथ ही उन्होंने इस पुरे मामले में पीएम मोदी से सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय से जांच कराने की मांग उठाई है.

पीवीएस शर्मा ने कहा की नोटबंदी के दौरान हुए करोड़ों के भ्र’ष्टाचा’र पर कुछ स्वार्थी तत्वों द्वारा पर्दा डाल गया है और ऐसे तत्वों को बेनकाब किया जाना जरुर है और यह पीएम मोदी की जिम्मेदारी है.

पीवीएस शर्मा के इस दावे के साथ ही सूरत में खलबली मच गई है. इस मामले को लेकर कलामंदिर ज्वैलर्स के मालिक मिलन भाई शाह ने सफाई भी दी है. उन्होंने कहा कि उन पर लगाए जा रहे सभी आरोप बेबुनियाद है और वो किसी भी तरह की जांच में सहयोग करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

उन्होंने कहा कि कलामंदिर ज्वैलरी रिटेल में सबसे ज्यादा टैक्स भरने वाली कंपनी बनी हुई है. उन्होंने बताया कि हमारा पूरा कारोबार 1300 करोड़ रुपये से भी अधिक का है. हमारी कंपनी के पास 400 लोगों का स्टाफ है और हमने कुछ भी गलत नहीं किया है.

साभार- नवजीवन