VIDEO: पढ़ाई की उम्र में लहराया राजनीति में परचम, 21 साल की ‘असमा’ की भारी भरकम मतों से जीत

राजस्थान में नगर निगम चुनावों के नतीजें सामने आ चुके है. जयपुर, जोधपुर और कोटा जैसे बड़े नगर निगमों में कांग्रेस ने बाजी मा’र ली है. वहीं नतीजें घोषित होने के साथ ही एक 21 वर्षीय आसमा खान चर्चा का विषय बन गई है. दरअसल आसमा ने हैरिटेज नगर निगम से जीत हासिल की है और वो सबसे कम उम्र में पार्षद बन गई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आसमा जयपुर के घाट गेट के वार्ड नंबर 81 से पार्षद चुनी गई हैं.

आपको बता दें कि अक्टूबर 1999 को आसमा खान का जन्म जयपुर के घाट गेट इलाके में हुआ था. अभी वो मात्र 21 साल की है और उन्होंने पहली ही बार में कांग्रेस के टिकट से पार्षद के चुनाव में जीत हासिल कर ली है. उनकी इस सफलता के लिए मंगलवार देर शाम सूबे के सीएम अशोक गहलोत ने भी ट्वीट करके उन्हें बधाई दी है.

asma khan

चुनावी नतीजें घोषित होने के बाद जब आसमा की जीत का ऐलान हुआ तो पूरे इलाके में जश्न का मौहाल देखने को मिला. जब वो जीत दर्ज करने के बाद घर पहुंची तो आसपास के लोग और उनके समर्थकों ने उन्हें हाथी पर सवार करके विजय जुलूस पुरे इलाके में निकाला.

इस दौरान आसामा का अपने चुनावी क्षेत्र की हर गली में लोगों ने शानदार स्वागत किया. इस दौरान जुलूस में बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे. उन्हें शुभकामनाएं देने वाला का भी जमावड़ा लग गया.

बेटी ने पूरा किया पिता का सपना

बता दें कि आसमा से पहले उनके पिता सलीम खान ने जयपुर के वार्ड नंबर 81 से चुनाव लड़ने की योजना बनाई थी. लेकिन यह वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित हो गया, जिसके चलते सलीम चुनावी मैदान में नहीं उतर सके तो उन्होंने यहां से अपनी बेटी को टिकट दिलाकर मैदन में उतार दिया.

बताया जा रहा है कि जब पिता सलीम ने आसमा से चुनाव लड़ने के लिए कहा तो उन्होंने माना कर दिया था. लेकिन बाद में रिश्तेदारों और आसपास के लोगों के कहने के बाद उन्होंने परिवार की सहमित से चुनाव लड़ने का मन बना लिया था. इसके बाद पिता ने बेटी को पार्षद बनाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंकी दी और उसका नतीजा जीत के साथ सामने आया.

वहीं जीत दर्ज करने के बाद आसमा ने कहा कि मुस्लिम तबके में लड़कियां बहुत पिछड़ी हुई है. अब वह उनके लिए कुछ काम करना चाहती है जिससे उन्हें अच्छी तालीम मिल सके. वो खुद भी राजनीति के साथ-साथ पढ़ाई भी जारी रखेंगी. फ़िलहाल वो जयपुर के सरकारी कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रही हैं.

साभार- आजतक