पी’रियड से जुड़े यह झूठ, जिन पर लड़कियां आसानी से कर लेती हैं यकीन

भारतीयों में हर मुद्दें पर मुफ्त में सलाह देने का एक अलग सा जूजुन होता हैं. ऐसी ही मुफ्त की कई सलाहें लड़कियों को भी दी जाती हैं. उन्हें कई तरफ की मिथ्या बातें बताई जाती है और डराने वाली बात यह है कि ज्यादातर लड़कियां इन झूठी बातों को सच मान कर उन पर यकीन भी करनी लगती है. इसलिए ही लड़कियां वही सब करती है जो उन्हें उनकी मम्मी, दादी, नानी कहती हैं. कई बार लोगों के बीच बनी यह झूठी धारणाएं उनकी सेहत से खिलवाड़ कर देती है.

आज के समय में भी इन धारणाओं को माना जाता है तो चलिए आज हम आपको पीरियड से जुड़े कुछ ऐसे झूठ बताते है जो सिर्फ झूठ ही है उनका सच से कोई लेना देना नहीं हैं.

पहला झूठ महिलाओं को पी’रियड के समय एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए

यह पूरी तरफ झूठ है, अगर आपको एक्सरसाइज करना है तो आप बेखौफ कर सकती हैं. पी’रियड के दौरान हल्की-फुल्की एक्सरसाइज नुकसान नहीं बल्कि फायदेमंद रहती है. इससे द’र्द में राहत मिलती है. दरअसल एक्सरसाइज से मां’सपेशि’यों तक ऑक्सीजन पहुंच जाती है जिससे मां’स’पेशि’यां थोड़ी रिलैक्स हो जाती हैं.

एक्सरसाइज के दौरान निकलने वाले पसीने से पी’रियड में उठने वाले दर्द को रोका जाता सकता है. डॉक्टर्स के अनुसार पी’रियड के दौरान आप एक हफ्ते के अंदर 150 मिनट तक एक्सरसाइज आराम से कर सकती हैं.

दूसरा झूठ यह की पी’रियड हफ्ते भर चलना चाहिए. हम आपको बता दें कि यह पूरी तरफ झूठ है. हर महिला के लिए पी’रियड साइकिल की अवधि अलग अलग होती है. आपके पी’रियड्स तीन दिन में ही ख़त्म हो सकते है और हो सकता है कि यह 1 हफ्ते तक चलें. यह दोनों कं’डीशन ही नॉ’र्मल है. पीरियड का लंबा या छोटा होना उम्र पर भी निर्भर करता है.

दरअसल एस्ट्रोजन नाम का एक लेडिज हॉ’र्मो’न होता है जो महिलाओं में शरीर के बाल, पतली आवाज, से#क्स करने की इच्छा उत्पन्न करता है. यही हार्मोन हर महीने ब’च्चेदा’नी में खू’न और प्रोटीन की एक परत बना देता है. अगर यह परत पतली है तो खून कम बहता है और अगर यह मोटी होती है तो खून भी उनता ज्यादा बहता हैं.

तीसरा झूठ यह है कि पी’रियड के दौरान महिलाएं प्रे’गनें’ट नहीं हो सकतीं हैं. हम आपको बता दें कि इस बात में पूरी तरह से सच्चाई नहीं हैं. असल में अगर से#क्स के दौरान शु’क्रा’णु वे’जा’इना के अंदर रह जाता है तो वह पांच दिनों तक जिंदा रहता हैं. ऐसे में अलगे पांच दिनों में यह कभी भी अपना कमाल दिखा सकता है. ऐसे में अगर आप प्रे’ग’नेंट नहीं होना चाहतीं तो पीरियड होने के बाद भी से#क्स के दौरान कं’डोम का उपयोग जरुर करें.

 

चौथा झूठ पी’रियड के दौरान निकलने वाला खू’न, सामान्य खून से अलग होता है. यह सबसे आम अफवाह है जो यकीनन आपने भी सुनी ही होगी. लेकिन यह गलत है पी’रियड में निकलने वाला खू’न भी सामान्य ही होता है बस अंतर यह है कि यह वे’जाइ’ना से निकलता है. हालांकि इस खून में वह चीजें भी मिली होती है जो ब’च्चेदा’नी में जमा रहती है जैसे वेजाइना के टि’श्यू, से’ल्स और बच्चेदानी की परत के टुकड़े जो नसों में बहने वाले खू’न में नहीं होते हैं.