COVID-19: PM मोदी ने उपायों पर मुख्यमंत्रियों से की बात कहा- जब तक हालात नहीं सुधरते लॉकडाउन जारी रहेगा

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना संक्रमण की देश में मौजूदा स्थिति के कारण 25 मार्च से लागू देशव्यापी बंद लॉकडाउन सहित अन्य विषयों पर सोमवार को विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कर चर्चा की और इस बैठक में देश को लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर भी विचार विमर्श हुआ।

हलाकि प्रधानमंत्री मोदी ने साफ कर दिया कि जब तक हालात ठीक नहीं हो जाते लॉकडाउन जारी रहेगा. उन्होंने ये भी कहा कि जिन जिलों में हालात ठीक हैं वहां छूट दी जाएगी. पीएम ने कहा कि हमें अर्थव्यवस्था पर ज्यादा चिंतित होने की जरूरत नहीं है. कोरोना म’हामा’री के चलते हमारी अर्थव्यवस्था अच्छी स्थिति में है।

आपको बता दें इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले डेढ़ महीने में लॉकडाउन की वजह से हमने देश में हजारों लोगों की जा’न बचाई है. हमारा उद्देश्य तुरंत कार्रवाई करना है और हमें 2 गज दूरी का भी पालन करना है.प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राज्यों की कोशिशों से रेड जोन समय के साथ ऑरेंज और फिर ग्रीन जोन में तब्दील होने चाहिए।

हमें ऐसे सुधारों के लिए तैयार रहना चाहिए ताकि इससे आम लोगों का जीवन और बेहतर बन सके. हमें अर्थव्यवस्था को भी महत्व देना है लेकिन उसके साथ साथ कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई भी जारी रखनी है।

वही प्रधानमंत्री ने कहा कि COVID-19 का प्रभाव आने वाले दिनों में दिखाई देता रहेगा. इसलिए हमें मास्क और चेहरे को ढंकने को जीवन का हिस्सा बनाना होगा. सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने हमें जो सुझाव दिए हैं, उसके आधार पर आर्थिक चुनौतियों का सामना करेंगे और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सभी कई राज्यों के मुख्यमंत्री ने हिस्सा लिया. हलाकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में तकरीबन 10 मिनट की देरी से शामिल हुईं. वही बिहार और बंगाल के मुख्यमंत्रियों ने राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों को घर वापस लाने के मुद्दे को भी उठाया।

Leave a Comment