पीएम मोदी के संबोधन पर ओवैसी का तंज. कह- कई त्योहारों का किया जिक्र, लेकिन बकरीद कैसे भूल गए? चलिए फिर भी आपको पेशगी..

कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के अनलॉक2 में कदम रखने से पहले मंगलवार को राष्ट्र के नाम से अपना संबोधन दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम गरीब कल्याण योजना के नवंबर तक विस्तार का ऐलान करते हुए कहा कि गरीबों और जरूरतमंदों को अब दिवाली और छठ तक यानि नवंबर तक मुफ्त अनाज मिलेगा. पीएम मोदी ने इस दौरान कई त्योहारों का भी जिक्र किया था. पीएम की इस घोषणा पर काफी प्रतिक्रियां देखने को मिल रही है.

इसी बीच एमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने अपने भाषण में कई त्योहारों का जिक्र किया लेकिन वो बकरीद के बारे में भूल गए.

इसके साथ ही पीएम मोदी द्वारा दिये अपने संबोधन में चीन का जिक्र नहीं करने पर भी असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी को आड़े हाथ लिया. उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए किये गए अपने ट्वीट में लिखा कि आज चीन पर बोलना था, बोल गए चना पर.

उन्होंने आगे लिखा कि वास्तव में इसकी जरूरत भी थी कि क्योंकि आपके अनियोजित लॉकडाउन के चलते कई लोग भूखे रह गए हैं. आपने आगामी महीने में आने वाले कई त्योहारों का जिक्र किया, लेकिन आप बकरीद भूल गए? चलिए, फिर भी आपको पेशगी ईद मुबारक.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को चार बजे दिये अपने संबोधन में कहा कि पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को आगे भी जारी रखा जाएगा. इस विस्तार अब दिवाली और छठ पूजा यानि नवंबर महीन के आखिरी तक किया जा रहा है.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि इस योजना का फायदा देश के 80 करोड़ लोगों को मिलेगा. आपको बता दें कि इस योजना के तहत सरकार 5 किलो गेंहू या चावल मुफ्त में उपलब्ध कराएगी. इसके अलावा प्रत्येक परिवार को एक किलो चना भी मुफ्त दिया जाएगा.

पीएम मोदी ने बताया कि इस योजना पर 90 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे. दरअसल पीएम मोदी ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब बिहार में साल के लास्ट में विधानसभा के चुनाव होने वाले है. पीएम मोदी की इस घोषणा को बिहार चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है.

साभार- एनडीटीवी