पुलिस की पकड़ में आ गए कोरोना वाले बाबा, 11 रुपये में ताबीज तो कहीं 10 रुपये में झाड़ा और…

लखनऊ: चीन से चल कर दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस के खौफ में आज दुनिया के कई देशो में महामारी घोषित कर दिया गया है. इस जा’नलेवा वायरस की चपेट में आकर भारत में 2 लोगो की मौत हो चुकी है. जबकि भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 93 हो गए हैं. लेकिन कई लोगो ने इस बीमारी को कमाई का जरिया भी बना लिया है।

कोरोना वायरस के इलाज का दावा करने वाले कथित तांत्रिक बाबा और झाड़ा लगाने वाले ढ़ोंगी भी सामने आ रहे हैं, जो महज 11 रुपये में कोरोना वायरस को दूर भगाने का दावा कर रहे हैं. हालांकि 11 रुपये के ताबीज से कोरोना वायरस का इलाज करने का दावा करने वाले अहमद नाम के व्यक्ति को वजीरगंज पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

राजधानी लखनऊ के वजीरगंज में अहमद सिद्दीकी नाम के ढोंगी बाबा को गिरफ्तार किया है। इस मामले पर लखनऊ के एडिशनल सीपी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि सीएमओ की ओर से शिकायत मिलने पर धोखाधड़ी की धाराओं के तहत जवाहर नगर निवासी सिद्दीकी को गिरफ्तार किया गया है।

उनके मुताबिक, आरोपी अहमद सिद्दीकी नाम के ढोंगी बाबा खुद को कोरोना वाला बाबा बताकर लोगों को ताबीज़ बेच कर ठगी कर रहा था। दरअसल पुराने लखनऊ के डालीगंज के पास कोरोना वाले बाबा का बैनर हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है।

बाबा ने दावा किया है कि जिन लोगों के पास महंगा मास्क खरीदने के पैसे नहीं है। वह बाबा से 11 रुपये का ताबीज लेकर कोरोना वायरस को खत्म कर सकते हैं। हालांकि जब बाबा को फोन किया गया तो बातचीत के दौरान उन्होंने अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया।

इसके अलावा मड़ियांव इलाके में एक बाबा दस रुपये लेकर झाड़ फूंक के जरिए कोरोना वायरस खत्म करने का दावा कर रहे हैं। इसके अलावा शहर की पुरानी दरगाहों के आगे भी कोराना वायरस से लड़ने के ताबीज लोगों को बेचे जा रहे हैं।

Leave a Comment