CM योगी पर भड़की राज ठाकरे की पार्टी MNS, कहा- नाकामी छुपाने के लिए मुंबई के उद्योग ले जाने आया है ठग

मुंबई की फ़िल्मसिटी (Filmcity) यहीं रहेगी, यूपी में वर्ल्ड क्लास फिल्मसिटी बनाएंगे, योगी का ठाकरे सरकार को जवाब

मुंबई, 03 दिसंबर 2020: कहते हैं कि राजनीति में कोई भी काम बिना आरोप-प्रत्यारोप के पूरा नहीं होता और यह सिलसिला लगातार जारी रहता है जब देश के दिग्गज नेता एक दूसरे पर टिप्पणियां करते रहते हैं। ऐसा ही एक मामला हाल ही में सामने आया है। जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को ठग कह दिया गया हालांकि उसमें मुख्यमंत्री का नाम नहीं लिखा था लेकिन इशारा उनकी ही तरफ था।

दरअसल इन दिनों उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक योजना पर काम कर रहे हैं. जिसमें वह उत्तर प्रदेश के अंदर फिल्म सिटी बनवाना चाहते हैं. इसी सिलसिले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री इन दिनों मुंबई में ठहरे हुए हैं और वहां फिल्मी जगत के लोगों से लगातार मुलाकातें कर रहे हैं।

Yogi Adityanath

Aaj Tak की खबर के अनुसार, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के एक पोस्टर की तस्वीर वायरल हो रही है. जिसमें लिखा है कि ‘कहां राजा भोज कहां गंगू तेली’ पोस्टर में आगे लिखा है कि कहां महाराष्ट्र का वैभव और कहां यूपी की दरिद्र’ता।

वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि अगर हिम्मत है तो महाराष्ट्र के उद्योगों को कोई उत्तर प्रदेश ले जाकर दिखाए। ठाकरे आगे कहा कि महाराष्ट्र कंपटीशन से नहीं डरता लेकिन अगर कोई जबरदस्ती महाराष्ट्र से उद्योगों को लेकर जाता है तो उसकी इजाजत नहीं होगी।

सीएम उद्धव ने कहा कि ‘निवेशकों को आकर्षित करने के लिए इस्तेमाल किया गया कीवर्ड मैग्नेटिक महाराष्ट्र काफी शक्तिशाली है और महाराष्ट्र की संस्कृति और संस्था इसकी मजबूती का उदाहरण हैं। कुछ लोग आज आ रहे हैं, वे आपसे मिलेंगे भी और अपने साथ आने के लिए कहेंगे।

लेकिन महाराष्ट्र की मैग्नेटिक मजबूती काफी शक्तिशाली है जो चीजों को यहां से जाने से रोकेगी। वहीं महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना कहती है कि सिनेमा के जनक दादा साहब फाल्के हैं और उन्होंने ही इसकी शुरुआत की थी अब इसे यूपी ले जाने के लिए लोग मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं। असफल राज्य की विफलता छिपाने और मुंबई के उद्योग को ले जाने आया है ठग।