कोरोना से संघर्ष में सबसे ज्यादा एक्टिव प्रियंका गांधी ने सपा, बसपा को पछाड़ा, भाजपा से सीधी टक्कर

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा यूपी कांग्रेस की प्रभारी हैं. प्रभारी बनने के बाद से ही यूपी में सबसे मजबूत विपक्ष के तौर पर कांग्रेस ही नजर आने लगी है. समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का अता पता ही नहीं चल पा रहा है. कोरोना के विरुद्ध संघर्ष में सबसे ज्यादा सक्रियता भी यूपी कांग्रेस की ही नजर आ रही है.

प्रियंका की अगुवाई में यूपी कांग्रेस ने नया दांव चल दिया है, जिससे लॉकडाउन के पी’ड़ितों की अच्छी खासी मदद तो हो ही रही है, कांग्रेस का ग्राफ भी तेजी से बढ़ता हुआ दिख रहा है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक नया कार्यक्रम लॉन्च कर दिया है जिससे सत्ताधारी भाजपा के साथ साथ सपा और बसपा खेमे में भी खलब’ली मची हुई है.

ट्वीटर से लेकर ग्रांउड लेवल तक प्रियंका ही प्रियंका ही फिलहाल यूपी की पिच पर बैटिंग करती हुई नजर आ रही हैं.

कांग्रेस फाइट्स कोरोना

यूपी में लोगों की मदद के लिए प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं की फौज को जमीन पर उतार दिया है. प्रियंका के निर्देश पर यूपी के तमाम प्रमुख शहरों में कांग्रेस की साझी रसोईं बनवाई है जिससे कि मजदूर और कमजोर वर्ग के लोगों को दो वक्त का भोजन नसीब हो सके.

इस साझी रसोई के सफल संचालन के लिए प्रियंका ने कांग्रेस फाइट्स कोरोना के नाम से एक व्हाटसएप ग्रुप बना रखा है जिसमें कांग्रेस के करीब 200 प्रमुख कार्यकर्ता और नेता शामिल हैं. इस ग्रुप के माध्यम से साझी रसोईं के कामकाज पर प्रियंका सीधी नजर रख रहीं हैं.

कांग्रेस का हाइवे टास्क फोर्स

देश के अलग अलग कोनों से लॉकडाउन के बाद पलायन कर अपने घर लौटने वाले मजदूरों और कमजोर आर्थिक स्थिति वाले लोगों की मदद के लिए प्रियंका ने हाइवे टास्क फोर्स बनाया है जिसमें कांग्रेस के प्रदेश से लेकर पंचायत स्तर तक के नेता शामिल हैं.

ये टास्क फोर्स पलायन कर जैसे तैसे घर लौटने वाले लोगों के लिए ठहरने, खाने के साथ साथ उनके घर तक पहुंचाने का प्रबंध कर रही है. प्रियंका के इस कदम से दिहाड़ी मजदूरों, रिक्शा, ठेला चलाने वालों को बड़ी मदद मिल रही है.

यह टास्क फोर्स जो सबसे बड़ा काम कर रही है वो यह है कि मलिन बस्तियो में लगातार राशन की सप्लाई भी कांग्रेस की ओर से कर रही है. यूपी की योगी सरकार के प्रशासन ने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को इस तरह के कामों की सैद्धांतिक अनुमति प्रदान कर दी है जिससे गरीबों की झोपड़ियों तक प्रियंका गांधी का राशन पहुंच रहा है.

प्रियंका गांधी की साझी रसोईं

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष सह विधायक अजय कुमार लल्लू ने बताया कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने साझी रसोईं की शुरुआत कराया है जिसमें कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता खुद भोजन बना रहे हैं और लोगों के बीच वितरण कर रहे हैं.

प्रियंका गांधी की इस पहल को राजनीति का नाम दिया जा सकता है लेकिन बेहतर होता कि इस मुश्किल वक्त में सभी राजनीतिक दल इस तरह की राजनीति करते तो देश के लिए बेहतर होता.

Source: aajtak.intoday

Leave a Comment