मीडिया और व्हाट्सएप के जरिये नफरत फैलाने पर राहुल गांधी भ’ड़के, अब वीडियो के जरिए करेंगे संवाद

राजस्थान में कांग्रेस सरकार की स्थितरता को लेकर चल रही अटकलों के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने मीडिया के एक बड़े हिस्से पर निशाना सधाते हुए उस पर फा’सीवा’दी ताकतों का कब्ज़ा बताया. सोमवार को भारतीय जनता पार्टी की सरकार को निशाने पर लेते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आज भारतीय मीडिया के एक बड़े हिस्से पर फा’सीवा’दी ताकतों ने अपना कब्जा जमा लिया हैं.

राहुल ने आगे कहा कि लेकिन वो अपने विचारों को वीडियो के जरिए जनता के साथ लगातार साझा करते रहेंगे. राहुल गांधी ने अपने ट्वीटर अकाउंट से ट्वीट करके कहा कि आज टेलीविजन चैनल न’फरत से भरे नै’रेटिव सेट करने में लगे हुए है. टीवी चैनलों, वॉटसएस फॉरवर्ड और फेक खबरों के जरिए एक नफरत भरी कहानी फैलाई जा रही है.

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि मैं हमारे करेंट अफेयर्स, इतिहास और मौजूदा सं’क’ट को स्पष्ट करने और ऐसे लोगों तक अपनी पहुंच बनाना चाहता हूं जो सच्चाई जानने में विश्वास रखते हैं.

इसके साथ ही राहुल गांधी ने बताया कि वो मंगलवार को एक वीडियो के जरिए लोगों से अपने विचार साझा करेगें. आपको बता दें कि इससे पहले इंडिया टुडे के पत्रकार और एंकर राहुल कंवल ने एक ट्वीट करके पार्टी ने बन रही मौजूदा स्थिति के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को जिम्मेदार ठहराया.

राहुल कंवल ने अपने ट्वीट के जरिए कहा कि अपने बेटे के प्रति एक मा’तृ प्रधान का अंधा प्यार का वास्तविकता को देखने से इंकार करना भारी पड़ रहा हैं. कांग्रेस से पॉलिटिकल कयामत तक.राहुल ने एक भी मौका अपनी अक्षमता साबित करने के लिए नहीं गंवाया हैं.

कंवल ने आगे लिखा कि राजनीति के लिए किसी शख्स को नहीं का’टा जाता है. श्रीमती गांधी और राहुल गांधी को छोड़कर भारत के सभी लोग इसे देख सकते हैं. पिछले छह सालों के दौरान राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी की जरूरत से ज्यादा कथित आलोचना करने को लेकर कई अवसरों पर मीडिया के एक वर्ग की कड़ी आलोचना की हैं.

साभार- जनता का रिपोटर