लॉकडाउन की उड़ी ध’ज्जि’यां, निकली विशाल रथयात्रा, रोकने पर किया प’थराव

मामला महाराष्ट्र के सोलापुर का है. कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए लॉकडाउन का मजाक उड़ता दिखा जब रथयात्रा की शक्ल में निकले जुलूस में कई सौ लोग शामिल हुए. जब पुलिस ने लॉकडाउन का हवाला देकर रोकने की कोशिश की तो रथयात्रा में शामिल होने वाले श्रद्धालु भक्तों ने प’थरा’व शुरु कर दिया.

इस प’थरा’व में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी घायल हो गए है. रथयात्रा में प’थरा’व करने वाले 100 से ज्यादा भक्तों पर मामला दर्ज किया गया है और करीब 22 श्रद्धालुओं को हिरासत में ले लिया गया है.

पांच दिनों तक मनता है त्योहार

महाराष्ट्र के सोलापुर में एक गांव है वागदरी. इस गांव में कुल देवता का पांच दिवसीय त्योहार मनाया जाता है. कुल देवता को स्थानीय लोग ग्राम देवता परमेश्वर कहते हैं. इस दौरान पूजा, पाठ, हवन, अनुष्ठान और शोभायात्रा जैसे कार्यक्रम होते हैं. लॉकडाउन के दौरान मंदिर समेत तमाम धार्मिक स्थल बंद हैं.

वागदरी गांव में भी सब कुछ बंद था लेकिन रथयात्रा के नाम पर बड़ी संख्या में गांव वाले इकट्ठा होने लगें और पूजा पाठ के साथ ही भजन कीर्तन शुरु हो गया. पुलिस को सूचना मिली तो तुरंत वहां पहुंच कर इस रथयात्रा को रोकने की कोशिश करने लगी. इस पर भक्तजन आक्रोशित हो गए और पुलिस पर पथराव शुरु कर दिया.

रामनवमी पर भी लॉकडाउन का उल्लंघन

धार्मिक कार्यक्रमों के नाम पर सबसे ज्यादा लॉकडाउन का उल्लंघन किया जा रहा है. 02 अप्रैल को रामनवमी थी. इस दिन तेलंगाना से जो तस्वीरे सामने आईं, वो अपने आप में निराशाजनक थी. तेलंगाना सरकार के दो वरिष्ठ मंत्रियों अलोला इंद्रकरण रेड्डी और पी अजय कुमार रामनवमी के अवसर पर मंदिर में अपने परिवार समेत पूजा पाठ करने पहुंच गए, जिसकी वजह से मंदिरों में काफी भीड़ जमा हो गई.

मंत्रियों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो काफी आलोचना हुई. पी अजय कुमार तेलंगाना सरकार में परिवहन मंत्री हैं तो अलोला इंद्रकरण रेड्डी वन एंव पर्यावरण मंत्री का दायित्व संभाल रहे हैं.

मीडिया को सिर्फ तबलीगी जमात की खबर

हैरानी की बात है कि महाराष्ट्र में लॉकडाउन उल्लंघन की इतनी बड़ी घटना हो गई. पुलिस पर श्रद्धालुओं ने पथराव कर दिया. बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी घायल हो गए, दो दर्जन लोग हिरासत में जबकि 100 से ज्यादा लोगों पर मामला दर्ज हुआ लेकिन देश की मीडिया को खबर सिर्फ तबलीगी जमात की है.

source : thelallantop

Leave a Comment