RBI ने रद्द किया एक और बैंक का लाइसेंस, लॉक डाउन में बैंक के ग्राहकों को हो सकती हैं मुश्किलें

लॉक डाउन में भी RBI के द्वारा, महाराष्ट्र के एक और बैंक का लाइसेंस रद्द करना मामले की गंभीर’ता को दर्शाता है. जिसकी वजह से अब इस बैंक के खाताधारकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. जैसा कि आपको पता है कि देशभर में फिलहाल कोरो’ना की वजह से लॉक डाउन चल रहा है. इस वैश्विक महामा’री के चलते लोगों को आर्थिक परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है.

इसकी सबसे बड़ी वजह है, काफी दिनों से लोगों के काम धंधे बंद हैं. इसके अलावा जो लोग नौकरियां करते थे, वह भी इस लॉक डाउन के चलते अपने घरों पर बैठे हुए हैं. हालांकि सरकार ने लोगों से अपील की है कि, वह किसी को भी काम से न निकालें, उन्हें हर तरह से आर्थिक सहायता दें, किसी का भी वेतन न काटें.

ckp cooperative bank

हालाँकी मानवता के नाते काफ़ी लोगों ने शुरू-शुरू में लोगों की मदद भी की और उनको वित्तीय सहायता भी की, लेकिन किसी को भी ये पता नहीं था कि ये लॉक डाउन कितना लम्बा चने वाला है.

हर जगह सभी लोगों कि स्थिति सामान्य नहीं है, क्योंकि कारोबार तो लगभग पहले से ही दयनीय स्थिति में चल रहे थे, और अब लॉक डाउन के बाद एक दम से जब सब बंद हो गया तब ऐसे में उनको भी आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है जो लोग दूसरों को रोज़ी देते थे.

लॉक डाउन में एक और बैंक का लाइसेंस हुआ रद्द

आपको ध्यान होगा कि अब से कुछ माह पूर्व दो बड़े बैंक दिवालिया हो चुके थे, जिसके बाद उन बैंकों के ग्राहकों को काफी तकली’फ झेलनी पड़ी थी. और अभी हाल ही में लॉक डाउन से कुछ दिन पहले ही ‘यस बैंक’ भी जिस तरह से डूबा, उसकी स्थिति भी किसी से छिपी नहीं है.

RBI Ban Bank ckp cooperative bank Limited

अब खबर आ रही है कि महाराष्ट्र में एक और कॉपरेटिव बैंक का लाइसेंस आरबीआई ने रद्द कर दिया है. इस बैंक का नाम है सीकेपी को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, महाराष्ट्र . अब इस बैंक के खाताधारकों को भी काफी मुश्कि’लों का सामना करना पड़ सकता है.

खबरों के अनुसार बताया जा रहा है कि दूसरे बैंकों की तरह इस सीकेपी को-ऑपरेटिव बैंक पर भी अनियमितताओं और वित्तीय अस्थिरता के चलते आरबीआई ने यह स’ख्त कदम उठाया है.

छोटे बैंकों में हो रहे हैं घपले और अनियमितताएं

आपको बता दें कि आरबीआई ने महाराष्ट्र के सीकेपी को-ऑपरेटिव बैंक पर 30 अप्रैल से ही इसके सभी तरह के कामकाज पर रोक लगा दी थी.

बताया जा रहा है कि, आरबीआई ने यह फैसला इस बैंक के निवेशकों का पैसा डूबने से बचाने के लिए किया है. इसके साथ ही उन्होंने पुणे के कोऑपरेटिव सोसाइटीज के रजिस्ट्रार को भी निर्देश दे दिए हैं, ताकि बैंक में किसी भी तरह के मामलों को रोका जाए.

अब इस सीकेपी को-ऑपरेटिव बैंक के बारे में जब तक आरबीआई नयी गाईडलाइन जारी नहीं करता, तब तक अगले आदेश के आने तक यह सीकेपी कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, किसी भी तरह का बैंकिंग कार्य नहीं कर सकेगा.

महाराष्ट्र के सीकेपी को-ऑपरेटिव बैंक पर आरबीआई की निगाह पहले से ही थी

जैसे कि लोगों की रकम जमा करना, नए खाते खोलना, फिक्स डिपोजिट, बैंक से ग्राहक अपने पैसे की निकासी भी नहीं कर पाएंगे, एटीएम वगैरह इस तरह के कामों पर पाबंदी लगा दी गई है.

लॉक डाउन के चलते, इस बैंक के ग्राहकों को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि जब तक आरबीआई अगला आदेश जारी नहीं करती, तब तक इसके खाता धारक अपना पैसा भी बैंक से नहीं निकाल सकते हैं, ऐसी स्थिति में क्या पता अब कितने दिनों तक लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

Leave a Comment