मुंबई पुलिस की जाल में फंसी बड़ी मछलीः रिपब्लिक टीवी के सीईओ विकास खानचंदानी गिरफ्तार

टीआरपी घोटाले (TRP scam) में मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की जाल में बड़ी मछली फंसी है. मुंबई पुलिस ने इस घोटाले में रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के सीईओ विकास खानचंदानी (Vikas Khanchandani) को गिरफ्तार कर लिया है.

महाराष्ट्र 13 दिसम्बर 2020: टीआरपी घोटाले में मुंबई पुलिस ने रविवार को रिपब्लिक टीवी के CEO विकास खानचंदानी को गिरफ्तार किया है। आपको बता दें ये फर्जी टीआरपी घोटाला अक्टूबर में सामने आया था, जिसके बाद रिपब्लिक टीवी के सीईओ से कई बार पूछताछ की गई थी हलाकि इससे पहले रिपब्लिक टीवी के वरिष्ठ पत्रकार और चैनल के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को भी मुंबई पुलिस ने एक अन्य केस में गिरफ्तार किया था। जिन्हे बाद में कोर्ट से जमानत मिल गई थी।

दरअसल, रेटिंग एजेंसी ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल ने एक शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें आरोप लगाया गया था कि कुछ टेलीविजन चैनल टीआरपी के आंकड़ों में भारी हेराफेरी कर रहे हैं। जिसमें रिपब्लिक टीवी के साथ साथ दो और अन्य टीवी चैनल शामिल थे। आपको बता दें हंसा, बार्क वो कंपनी है जो घरों में चल रहे टीवी चैनलों और दर्शक संख्या को लेकर शोध करती है।

मुंबई पुलिस खानचंदानी से पहले कई बार पूछताछ कर चुकी है.

Vikas Khanchandani

आपको बता दें मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के CEO विकास खानचंदानी को रविवार सुबह गिरफ्तार किया है. वही इस मामले में अभी तक 13 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. टीआरपी घोटाले को लेकर में मुंबई पुलिस खानचंदानी से पहले कई बार पूछताछ कर चुकी है।

बता दें टीवी के टीआरपी सिस्टम पर नजर रखने वाली संस्था हंसा रिसर्च के एक अधिकारी की शिकायत के बाद जांच शुरू की गई थी। वही मुंबई पुलिस ने इस मामले में 6 अक्टूबर को FIR दर्ज की थी. पुलिस के अनुसार रिपब्लिक टीवी के सीईओ विकास खानचंदानी को कथित टीआरपी घोटाले के मामले में 15 दिसंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

वही पुलिस सूत्रों के अनुसार, इस मामले में कुछ दर्शकों ने स्‍वीकार किया है. कि रिपब्लिक टीवी ऑन रखने के लिए हमें पैसे दिये जाते थे, चाहे वो चैनल देखें या न देखे, उन्हें हर टाइम अपना टीवी ऑन रखना है। वही इस मामले में दो स्‍थानीय टीवी चैनल ‘फकत मराठी’ और’ बॉक्‍स सिनेमा’ का नाम भी सामने आया था।