VIDEO: मुश्किल में अर्णब, खुलने जा रही है दो लोगों के आत्मह’त्या की फाइल, मंत्री ने किया एलान

रिपब्लिक टीवी भारत चैनल के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी इन दिनों पुलिस स्टेशन और अदालतों का चक्कर काट रहे हैं. बता दें पिछले दिनों कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी पर टिप्पणी करने पर उनके खिलाफ अर्णब गोस्वामी पर कई जगह FIR दर्ज हुई थी. हालाकीं सुप्रीम कोर्ट ने इस कार्यवाही को आगे बढ़ा दीया था लेकिन अब एक और नई मुसीबत उनके ऊपर आती दिख रही है।

अर्णब गोस्वामी की मुश्किल बढ़ती नजर आ रही है. अभी तक तो वो कानूनी दांवपेंच का सहारा लेकर किसी तरह पुलिस की गिरफ्त में खुद को जाने से बचाते आये हैं, लेकिन अब मामला गंभीर हो उठा है. महाराष्ट्र सरकार के एक मंत्री ने अर्णब गोस्वामी पर 2018 में दायर दो लोगों को आ’त्मह#त्या के लिए उकसाने के मामले की फाइल फिर से खुलवाने की मांग की है।

फाइल फोटो

ठाकरे सरकार में मंत्री डी पाटिल ने आश्वासन दिया

दरअसल, हाल ही में अक्षता नाइक नाम की एक महिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से इंसाफ की गुहार लगायी है. 48 वर्षीय अक्षता नाइक ने बताया कि 5 मई 2018, को उनके पति अनवय नाइक और उनकी सास ने रिपब्लिक टीवी के मालिक और संपादक अर्णब गोस्वामी के मानसिक अ’त्याचा’र के चलते आ’त्मह#त्या कर ली थी।

आपको बता दें इस मामले को लेकर महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री सातेज (Bunty) डी पाटिल ने आश्वासन दिया है. कि उनकी पार्टी 2018 में अर्णब गोस्वामी के खिलाफ दो लोगों को आ’त्मह#त्या के लिए उकसाने का केस फिर से खोलेगी।

महाराष्ट्र के मंत्री और कांग्रेस नेता सातेज (Bunty) डी पाटिल ने ट्वीट कर कहा, महाराष्ट्र डीजीपी द्वारा उचित कार्रवाई की जायेगी और न्याय होगा. बता दें कि 5 मई को इंटीरियर डिजाइनर अनवय नाइक की विधवा अक्षता नाइक सामने आयी थीं और उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट कर कहा था कि 2018 में उनके पति और उनकी सास ने आ’त्मह#त्या कर ली थी।

क्योंकि अर्णब और उनके दो साथियों ने उनका बकाया पैसा नहीं दिया था और उन्हें मानसिक रुप से भी प्रताड़ित किया गया था. जिसके चलते उन्होंने यह कदम उठाया था। बता दें अनवय नाइक कॉनकॉर्ड डिज़ाइन्स प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर थे और उनकी कंपनी ने ही रिपब्लिक टीवी का स्टूडियो बनाया था।

 

अक्षता नाइक के मुताबिक, काम पूरा हो जाने के बाद अर्णब को उन्हें एक मोटी रकम का भुगतान करना था, लेकिन उन्होंने न सिर्फ पैसे देने से इनकार कर दिया, बल्कि उन्हें मानसिक रुप से इतना प्रताड़िता किया कि अनवय नाइक और उनकी मां ने महाराष्ट्र के अलीबाग के कवीर पार्क स्थित अपने फार्म हाउस में आ’त्मह#त्या कर ली।

पुलिस को आत्महत्या स्थल से सुसाइड नोट भी मिला था, जिसमें रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी और दो अन्य लोगों फ़िरोज़ शेख और नितिश सारडा के ऊपर उन्हें खु’दकु’शी करने के लिए मजबूर करने का इल्जाम लगाया था।

अलीबाग पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया था, लेकिन उसके बाद इस मामले का क्या हुआ. कुछ पता ही नहीं चला. उस वक्त राज्य में देवेंद्र फडणवीस बीजेपी की सरकार की थी. बीजेपी, देवेंद्र फडणवीस और अर्णब गोस्वामी का संबंध सभी जानते हैं।