डॉ. कफील खान की रिहाई के आदेश के बाद पत्नी शबिस्ता ने कही बड़ी बात, देखें क्या कहा

मथुरा की जेल में बंद डॉ. कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तुरंत रिहा करने के आदेश सरकार को दिए हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कफील पर कथित भड़’काऊ भाषण देने के आरोपों को सिरे से ख़ारिज कर दिया हैं. इसी के साथ कोर्ट ने भ’ड़काऊ भाषण के चलते कफील पर रासुका (National Security Act-NSA) के आरोपों को भी ख़ारिज कर दिया हैं. कोर्ट ने मंगलवार को अपने फैसले में उनकी रिहाई के आदेश दिये.

डॉ . कफील के मामले में कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि डॉक्टर कफील को NSA के तहत हिरासत में लेना और हिरासत की अवधि को बढ़ाना गैरकानूनी है. कोर्ट ने सरकार के रासुका लगाने के फैसले को गैरकानूनी करार देते हुए कफील खान को तुरंत रिहा करने के आदेश किये हैं.

इसी के साथ ही देश भर से सोशल मीडिया पर इस मामले को लेकर प्रतिक्रिया आने लगी हैं. इसी बीच खान की पत्नी की प्रतिक्रिया भी सामने आई हैं. एक वीडियो जारी करके शबिस्ता खान ने कहा कि उनकी जिंदगी से साथ महीने छीने गए हैं जिन्हें अब कोई भी वापस नहीं लौटा सकता हैं.

शबिस्ता खान ने कहा कि एक निर्दोष व्यक्ति जिसने कुछ भी ना किया हो उस पर इस तरह से NSA लगाकर उसे जबरन जेल में बंद कर लिया गया और सात महीने तक उसे हर तरीके से प्रताड़ित किया गया, उनके जीवन के वो सात महीने कोई भी वापस नहीं कर सकता हैं.

उन्होंने आगे कहा कि हम जब भी सोचते हैं कि उन्होंने वो सात महीने जेल में कैसे गुजारे होगें तो हमारी रूह कांप जाती हैं. अगर आपके पास रासुका की पवार हैं तो उसका दुरूपयोग मत कीजिए. अगर कोई दं’गा करता हैं या कुछ गलत कर रहे हैं तो उसे जेल में डालकर उस पर इसे लगाए.

लेकिन जिसने कुछ गलत किया ही नहीं हैं तो भी उस पर NSA लगा दिया गया और जेल में डाल दिया गया. प्लीज़ मेरी सरकार से यही अपील है कि अगर आपके पास NSA की पवार हैं तो इसका गलत इस्तेमाल मत करिए.

आपको बता दें कि गोरखपुर के BRD मेडिकल कॉलेज के बालरोग विशेषज्ञ डॉक्टर और प्रवक्ता डॉ. कफील खान द्वारा CAA, NRC और NPA के विरोध प्रर्दशन के दौरान अलीगढ़ विश्वविद्यालय में दिये गए कथित तौर पर भड़’काऊ भाषण के चलते NSA के तहत यूपी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया था.

साभार- एनडीटीवी