निजामुद्दीन मरकज मामले को लेकर भड़के ऋषि कपूर, बोले- इसलिए मैंने पहले ही कहा था, कि…

नई दिल्ली: खतरनाक कोरोनावायरस माहमारी के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है. वही कोरोना वायरस को लेकर आम आदमी से लेकर फिल्म इंडस्ट्री के लोग तक लगातार ट्वीट कर रहे हैं. कोरोना जैसे म’हामा’री को लेकर बॉलीवुड ऋषि कपूर भी लगातार ट्वीट कर रहे हैं। ऐसे में ऋषि कपूर लोगों से सरकार के लॉकडाउन आदेश के पालन करने की अपील कर रहे हैं।

तो वही दूसरी ओर वह सरकार के कामकाज भी अपनी पैंनी नजर रखकर अपनी राय भी सोशल मीडिया के जरिए दे रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अपने ट्विटर पर लिखा था कि मेरे प्यारे भारतवासियों, हमें इ’मर्जें’सी लगा देनी चाहिए। जरा देखो, पूरे देश में क्या हो रहा है। अगर टीवी की रिपोर्ट्स की मानें, लोग पुलिस स्टाफ को भी पी’ट रहे हैं।

बता दें देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है. और ऐसे में दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीग-ए-जमात में हिस्सा लेने के लिए 2,000 से अधिक प्रतिनिधि शामिल हुए थे. जिसमे कई देशों से आए लोग शामिल हुए थे. हालांकि, अब इस पर बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर का रिएक्शन आया है. ऋषि कपूर ने हाल ही में एक ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

ऋषि कपूर ने अपने इमरजेंसी वाले ट्वीट को दोहराते हुए लिखा, आज ये हुआ कल क्या क्या होना है, यही कारण था कि मैंने कहा था हमें सैन्य की जरूरत है, इ’मरजें’सी ऋषि कपूर का यह ट्वीट खूब वायरल हो रहा है और लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

दरअसल, हाल ही में किये एक्टर ऋषि कपूर अपने इ’मरजें’सी वाले ट्वीट को लेकर ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए थे. ऋषि कपूर ने अपने ट्वीट में लिखा था, प्रिय भारतीयों, हमें आ’पातका’ल घोषित करना होगा. देखो पूरे देश में क्या हो रहा है।

टीवी की मानें तो लोग पुलिसकर्मियों और मेडिकल स्टाफ को पी’ट रहे हैं. स्थिति को नियंत्रि’त करने का कोई अन्य तरीका नहीं है. यह केवल हम सभी के लिए अच्छा होगा. दहश’त अंदर स्थापित हो रही है।

Leave a Comment