“किसे मालूम था जनादेश को ‘शासनादेश’ निगल जाएगा” RJD ने बिहार की जनता को कहा शुक्रिया

"हार से दुखी होना अलग बात है, लेकिन जबरदस्ती हरवा देना दूसरी बात है.."

नई दिल्ली: बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) नेता प्रतिपक्ष और महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे तेजस्वी यादव ने हाल ही में नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक बुलाई थी इस दौरान तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पत्रकारों से कहा कि चाहे मुख्यमंत्री की कुर्सी पर कोई भी बैठे, असली विजेता तो वहीं हैं.

गौरतलब है की, महागठबंधन के हारने के बाद तेजस्वी यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुनाव अधिकारियों के साथ नीतीश कुमार ने सांठगांठ करने का आरोप लगाया है. आरजेडी ने कहा है, हार से दुखी होना एक बात है. लेकिन जबरदस्ती हरवा देने से पूरी तरह असंतुष्ट और क्रु’द्ध होना दूसरी बात है.

Tejashwi Yadav 3

बता दें बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद मंगलवार देर रात को चुनाव आयोग ने नतीजे घोषित किए जिसके मुताबिक 243 विधानसभा सीटों में से नीतीश कुमार की अगुवाई वाले दल एनडीए को 125 और वही तेजस्वी यादव के नेतृत्व वाले महागठबंधन को 110 सीटें मिली हैं.

अब राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से चुनाव आयोग पर अपने ही नियमों की अनदेखी का आरोप लगाया है. आरजेडी ने ट्वीट करते हुए कहा, कि चुनाव आयोग को सेवाएं दे रहे नीतीश कुमार के चापलूसों एवं भ्रष्ट ने उनकी पार्टी को जैसे तैसे जबरदस्ती हरवाया है.

वही राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के ट्वीट के कुछ देर बाद ही पार्टी के सांसद मनोज झा ने भी ट्वीट कर बिहार की जनता का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा की 10 लाख नौकरियों को लेकर उनकी जागरुकता के लिए उन्हें बधाई। मनोज झा ने अपने ट्वीट के जरिए चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा उन्होंने लिखा, किसे मालूम था कि जनादेश को शासनादेश निगल जाएगा…

आपको बता दें बिहार चुनाव में जीत के साथ ही एक बार फिर एनडीए सरकार बनाने जा रही है. जिसको लेकर बीजेपी ने पटना के साथ-साथ दिल्ली में अपने मुख्यालय पर जश्न मनाया, इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष जे. पी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बिहार की जनता को शुक्रिया कहा.