बड़ी खबर: पुलिस चौकी और संघ कार्यालय में ब’म फेंकने के आरोप में RSS कार्यकर्ता गिरफ्तार, पूछताछ में हुए कई चौंकाने वाले खुलासे

तिरुवनंतपुरम: केरल पुलिस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के एक कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया है। आरएसएस कार्यकर्ता पर 21 जनवरी को कन्नूर में आरएसएस कार्यालय के पास पुलिस पिकेट पर ब’म फेंकने का आरोप है। उसे तमिलनाडु के कोयंबटूर से गिरफ्तार किया गया है। आपको बता दें यह घ’टना 16 जनवरी की केरल के कन्नूर की है और आरोपी का नाम प्रबेश है।

दरअसल, 16 जनवरी को RSS कार्यकर्ता को पुलिस ने मंगलवार को तमिलनाडु के कोयंबटूर से गिरफ्तार किया है। कथीरुर पुलिस के अनुसार, प्रबेश ने कथित रूप से आरएसएस कार्यालय काठिरुर मनोज स्मृति केंद्रम के सामने पुलिस पिकेट की ओर स्टील ब’म फेंका था।

वही इडिया टूडे की रिपोर्ट के अनुसार RSS कार्यकर्ता ने RSS कार्यालय काठिरुर मनोज स्मृति केंद्रम के सामने पुलिस चौकी की ओर स्टील ब’म फेंका था। उसकी पहचान सीसीटीवी विजुअल्स से हुई थी। ह’मले के बाद, वह कोयंबटूर फरार हो गया। पुलिस ने कहा कि वह और भी कई आपराधिक मामलों में आरोपी था।

बता दें कोडाक्कलम में पालपरमबाथ हाउस से प्रबेश को कोयंबटूर से कथिरूर के सब-इंस्पेक्टर एम नीजीश ने सिविल पुलिस अधिकारियों जोशिथ और बिजेश के साथ गिरफ्तार किया है। नीजीश ने प्रबेश की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। यह ब’म ध’माका 16 जनवरी सुबह तड़के लगभग एक बजे हुआ था।

गौरतलब है की कन्नूर राजनीतिक रूप से एक संवेदनशील क्षेत्र है, जहां कई राजनीतिक दलों के बीच टकराव होना आम बात है। हलाकि पुलिस ने कुछ महीने पहले आरएसएस कार्यालय के पास नई पुलिस चौकी की शुरूआत की थी। जिसके बाद सीपीआइ (एम) और आरएसएस के बीच कई झड़पें हुई हैं, जिससे दोनों पक्षों के कई लोगों की मौ’त हुई भी है।

 

आपको बता दें इस क्षेत्र के आरएसएस कार्यालय का नाम काथिरूर मनोज के एक वरिष्ठ कार्यकर्ता के नाम पर रखा गया है। जिसे 2014 में सीपीआई (एम) के कार्यकर्ताओं ने एक झड़प के दौरान मा’र डाला था। वहीं काठिरुर मनोज 1999 में हुए वरिष्ठ माकपा नेता पी जयराजन की ह’त्या के प्रयास में मुख्य आरोपी थे।

Leave a Comment