मुंबई मामले को सां’प्रदायि’क रंग देने पर, कपिल मिश्रा पर भड़के संजय राउत, बोले मुंबई पुलिस इसपे FIR करे

देश भर में कोरोना जैसी महा’मा’री से जूझ रहा है. यह वक्त है जब सभी लोगों को एकजुट होकर मुस्तैदी से इस महा’मा’री से लड़ने की लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसके बहाने लगातार सा’म्प्रदा’यिकता को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं. दरअसल देश में जारी लॉकडाउन के बीच घर लौटने के लिए मंगलवार को हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर अचानक मुंबई के बांद्रा में जमा हो गए।

इसके बाद भी’ड़ को हटाने के लिए पुलिस को लाठी ला’ठीचा’र्ज करना पड़ा. इन मजदूरों की मांग थी कि उन्हें उनके घर वापस भेजा जाए. बांद्रा में जमा हुई भी’ड़ को लेकर अब बीजेपी के कुछ नेता नफ़रत की राजनीति करने ने बाज़ नहीं आ रहे। बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने भड़काऊ ट्वीट करते हुए इस मामले को सां’प्रदायि’क रंग देने की कोशिश की है।

बता दें बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा, जो मुंबई में हो रहा है, हजारों लोग एक साथ एक जगह, यह बिना प्लानिंग के असंभव है. जैसे दिल्ली में बसों में भी’ड़ भेजी गई, मुंबई में भी वैसी ही साजिश है ट्रेनें बंद हैं तो भी’ड़ स्टेशन पर कैसे आई? क्या मा’स मै’सेजिं’ग हुई? कुछ लोग देश के खिलाफ बहुत गं’दी साजिश कर रहे हैं।

आपको बता दें मुंबई के नज़ारे में फर्क बस इतना था कि वहां एक मस्जिद जो फ्रेम में आ रही थी। बस फिर क्या था, नफ़रत की दुकान चलाने वाले कपिल मिश्रा के लिए ये नज़ारा किसी ऑक्सीजन से कम नहीं था। उन्होंने फौरन ही मामले में मस्जिद की भूमिका को कटघरे में खड़ा कर दिया। मिश्रा ने बिना किसी सबूत के इसे मस्जिद द्वारा कि गई देश के खिलाफ साज़िश तक बता डाला।

वही अब भाजपा नेता कपिल मिश्रा द्वारा की गई इस शर्मनाक हरकत की जमकर आलोचना हो रही है। लोग कपिल मिश्रा को देश में नफ़रत फैलाने के लिए गिरफ़्तार किए जाने कि मांग कर रहे हैं। शिवसेना नेता संजय राउत ने भी मुंबई पुलिस से अपील की है की कपिल मिश्रा के ख़िलाफ़ इस मामले में एफआईआर दर्ज की जाए।

बता दें संजय राउत ने ट्वीट कर कहा, कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में हम सभी को एकजुट होना चाहिए। लेकिन कपिल मिश्रा जैसे लोग पीएम की बात भी नहीं सुन रहे हैं और बांद्रा में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना को सां’प्रदायि’क रंग दे रहे हैं। मुंबई पुलिस को ऐसे तत्वों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करनी चाहिए।

Leave a Comment