शादियों में चोरी करने का ऐसा अनोखा तरीका निकाला कि कोई शक भी नहीं कर सकता

शादियों में बैंड बाजा बारात गैंग का प'र्दाफाश, शादियों में करते थे चोरी की वा'रदात

दिल्ली: यूँ तो शादियों में हर कोई मौज मस्ती करने और खाने के लिए ही जाता है, लेकिन क्या हो अगर यही मौज मस्ती आप पर भारी पड़ जाए. उस दौरान क्या हो अगर आप के बगल में खड़ा कोई व्यक्ति ही शादी में मौज मस्ती के लिए नहीं बल्कि किसी और मकसद के लिए पहुंचा हो.

जी हां हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है, दिल्ली की क्रा’इम ब्रांच ने शादियों में चोरी की वारदा’त करने वाली एक पूरी गैं’ग का पर्दाफा’श किया है. इनका पूरा सच जब उन लोगों के सामने आया तो एक बार तो वह भी हैरान रह गए.

शादियों में चोरी करने का अनोखा तरीका

चोर हमेशा पुलिस से एक कदम आगे रहते हैं, उसके बावजूद भी पकड़े जाते हैं

आपको बता दें कि दिल्ली एनसीआर में शादी समारोह में लगातार चोरी की घ’टनाएं सामने आ रहीं थी जिस पर क्रा’इम ब्रांच ने एक्शन लिया और एक गैं’ग का पर्दाफा’श किया है।

जिसे बैंड बाजा बारात गैं’ग कहा जा रहा है. बता दें कि क्राइम ब्रांच ने दो नाबा’लिग समेत सात लोगों को पकड़ा है. यह लोग पहले बच्चों को उनके मां-बाप से साल या 2 साल के लिए लीज पर लेते थे जिसके लिए उनके मां-बाप को लाखों में रुपए पहले ही दे दिए जाते थे.

उसके बाद इन बच्चों को चोरी के लिए ट्रेंड किया जाता था और उसके बाद बढ़िया कपड़े पहना कर शादी समारोह में दाखिल करवा दिया जाता था और फिर यह बच्चे शादी में पहुंचकर चोरी की घ’टनाओं को अंजाम देते थे . अब पुलिस ने इस गैंग से चार लाख रुपये, एक सिल्वर का सिक्का और दो बैग बरामद किए हैं.

चोरी की घट’नाओं पर क्राइ’म ब्रांच के डीसीपी भीष्म सिंह ने बताया कि अब तक दिल्ली एनसीआर में लगातार चोरी की घ’टनाएं सामने आ रही थी.

जिस पर एसटीएफ एसीपी पंकज सिंह को जांच के लिए लगाया था उन्होंने लगातार कई शादियों की सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सं’दिग्धों की पहचान की.

और उस गैंग का पर्दाफाश करने में सफल रहे उन्होंने बताया कि आरोपी शादी में बढ़िया कपड़ा पहन कर आते थे और पहले वहां खाना खाते थे और मौका मिलते ही चोरी की वारदात को अंजाम देते थे.

वे शादियों से ज्वेलरी गिफ्ट बैग सहित कई बार कैश भी उड़ा लाते थे ऐसे में अब इस बैंड बाजा बारात का पर्दाफाश किया गया है जिसमें नाबालिक बच्चों से चोरी करवाई जाती थी.