शाह के काफिले पर चले पत्थर, दं’गाइयों ने ईश्वर चन्द्र विद्या सागर की मूर्ति तोड़ी है, बोला- अब विद्यासागर के दिन खत्म, हाउज द जोश

17वीं लोकसभा के गठन के लिए जारी चुनावों के तहत अंतिम चरण के मतदान के लिए चल रहे प्रचार-प्रसार के तहत पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को रोड शो किया. अमित शाह के रोड शो के दौरान जमकर बवाल हुआ. शहर के कई हिस्सों में सत्ताधारी तृणमूल के समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक भिड़ंत हुई.

एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार इस हिं’सक झड़प की शुरुआत कैलकटा यूनिवर्सिटी के सामने कॉलेज स्ट्रीट पर हुई. जिसके बाद यह विद्यासागर कॉलेज से होता हुआ इसके दूसरे कैंपस तक जा पहुंचा.

Image Source: Google

अंग्रेजी अखबार द टेलिग्राफ की रिपोर्ट के अनुसार सं’दिग्ध बीजेपी समर्थक विद्यासागर कॉलेज में घुस गए थे. इसी दौरान यहां प्रदर्शनकारियों ने विद्यासागर की एक मूर्ति तोड़ दी. समर्थकों का आरोप था कि तृणमूल कांग्रेस समर्थकों ने इन पर हमला बोला.

वहीं बिधानसरनी स्थित इस शिक्षण संस्थान के दूसरे कैंपस में भी जमकर हंगामा हुआ. इस दौरान कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया गया. रिपोर्ट के अनुसार कुनाल डे नाम के एक स्टूडेंट ने अख़बार को बताया कि तोड़फोड़ करने वाले एक शख्स ने जाते समय एक नारा भी लगाया.

वह कह रहा था कि विद्यासागर के दिन खत्म, हाउज द जोश? आपको बता दें कि यह शिक्षण संस्थान बंगाल के मशहूर समाज सुधारक, शिक्षा शास्त्री और स्वतंत्रता सेनानी रहे ईश्वरचंद विद्यासागर के नाम पर बना हुआ है.

Image Source: Google

इतना ही नहीं रोड शो के दौरान मामला इतना बढ़ गया कि शाह को बीच में ही रोड शो को खत्म करना पड़ा. शाह ट्रक से उतरे और गाड़ियों के काफिले में सवार होकर वहां से निकल गए. वहीं इससे पहले शाह की योजना शाहिद मीनार से लेकर विवेकानंद हाउस तक रोडशो निकालने की थी.

अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार बीजेपी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि जब रोडशो कॉलेज स्ट्रीट पहुंचा तो कोलकाता यूनिवर्सिटी कैंपस के अंदर से पानी की बोतलें, बैनरों और फ्लेक्स को तोड़कर निकाले गए लकड़ियों के टुकड़े शाह के काफिले पर फेंके गए. वहीं शाह को काले झंडे दिखाने की कोशिशें भी की गई.