गैर मुस्लिम नौजवान ने इस्लामिक स्टडीज प्रवेश परीक्षा में टॉप किया, पिता चलाते हैं किराने की दुकान

शुभम यादव ने इस्लामिक स्टडीज में टॉप किया है, मध्यमवर्गीय परिवार के बेटे ने नाम रोशन किया

श्रीनगर: आपको यह जानकर हैरानी होगा कि इस साल सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ कश्मीर (Central University of Kashmir) में इस्लामिक स्टडीज कोर्स में एमए के लिए हुई परीक्षा में टॉप करने वाले इस बार गैर मुस्लिमो की सबसे ज्यादा तादाद है. इन्ही में से एक राजस्थान के अलवर जिले के रहने वाले शुभम यादव (Shubham Yadav) है. जिन्होंने प्रवेश परीक्षा में बैठे सभी मुस्लिम युवाओं को पीछे छोड़ 73.5 अंक हासिल किए हैं।

इस्लामिक स्टडीज की प्रवेश परीक्षा में टॉप रैंक हासिल करने वाले शुभम यादव देश में मिशाल कायम की है. शुभम कश्मीर में भी चर्चा का विषय बने हुए है. बता दें 21 साल के शुभम यादव देश के एक लोते गैर मुस्लिम युवा हैं जिन्होंने प्रवेश परीक्षा में 73.5 अंक हासिल कर देश में अपना नाम रोशन किया है।

पिता चलाते हैं किराने की दुकान

Central University of Kashmir 1

 

54 छात्रों में अकेले गैर मुस्लिम उम्मीदवार शुभम यादव को इस उपलब्धि के लिए सम्मानित भी किया गया है. वही शुभम यादव से जब पूछा गया की आपको इस्लामिक स्टडीज की प्रवेश लेने में ही क्यों रूची दिखाई तो उन्होंने कहा, की देश में मुस्लिम फोबि’या और धु’व्रीकर’ण के माहौल को ठीक करने के लिए उन्होंने यह पढ़ाई चुनी है।

इस दौरान शुभम यादव ने यह भी बताया की वह सिविल सेवा में जाना चाहते हैं. लेकिन दुनिया भर में बढ़ते इस्ला’मो फोबि’या को देखने के बाद शुभम इस्लाम के बारे में उत्सुक हो गए. और आज 54 छात्रों को पीछे छोड़ 73.5 अंक हासिल कर देश के पहले गैर मुस्लिम युवा होने का गौरव हासिल किया है।

आपको बता दें राजस्थान के अलवर जिले के रहने वाले शुभम यादव के पिता प्रदीप यादव अलवर में एक किराने की दुकान चलाते हैं और उसकी मां इंदुबाला इतिहास की टीचर हैं।

वही (CUK), के प्रोफेसर हमीदुल्लाह मराजी ने बताया कि धार्मिक अध्ययन एक बहुत ही रोचक क्षेत्र है. और शुभम ने भी इसमें रूची दिखाई है. उन्होंने कहा कि सेंट्रल यूनवर्सिटी की प्रवेश परीक्षा राष्ट्रीय स्तर पर होती है और इसमें देश के विभिन्न राज्यों में रहने वाले युवा भाग लेते हैं. शुभम यादव राजस्थान के अलवर के रहने वाले हैं।