सोशल मीडिया पर वाइरल इस वि'वा'दित होल्डिंग को लेकर मचा बबाल, अब प्रशासन ने ख़ुद….

सोशल मीडिया पर वाइरल इस वि’वा’दित होल्डिंग को लेकर मचा बबाल, अब प्रशासन ने ख़ुद….

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही हैं. इस तस्वीर को लेकर यूजर तरह-तरह कि प्रतिक्रिया दे रहे है. सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर इस तस्वीर कि खूब आलोचना कि जा रही है. दरअसल यह वायरल हो रहा फोटो एक होल्डिंग है जिसमें एक बकरे कि तस्वीर लगी हुई हैं. इसके साथ ही जो संदेश दिया जा रहा है वो वि’वा’दों में आ गया हैं. असल में इस होल्डिंग को लगाने के समय और उद्देश्य सवालों के घेरे में आ गया हैं.

सोशल मीडिया पर वायरल यह होल्डिंग लखनऊ के कैसरबाग़ चौराहे पर लगाया गया था. इस होल्डिंग को लेकर मुस्लिम समुदाय ने कड़ी आलोचना की और साथ ही पुलिस प्रशासन पर भी कई सवाल खड़े किए गए हैं.

दरअसल इस होल्डिंग में एक तरफ बकरे का बड़ा का फ़ोटो लगाया गया है और इसके साथ ही एक संदेश लिखा गया है जो आलोचना कि वजह बना हैं. होल्डिंग पर लिखा है कि मैं जीव हूँ माँ’स नही, हमारे प्रति नज़रिया बदलें वीगन बनें.

चूँकि अब मुसलमानों का अहम त्योहार ईद-उल-अज़हा यानी बक़रीद आने को ही है तो ऐसे में यह होल्डिंग वि’वा’द का विषय बन गया है. बकरीद में अब कुछ ही दिन बचे है और इस मौके पर मुस्लिम समुदाय की तरफ़ से बकरे बकरियाँ वग़ैरह की क़ु’र्बा’नी देने की रस्म होती है.

इस्लामिक सेंटर ऑफ़ इंडिया नाराज

अब जबकि बक़रीद का त्योहार एक दम पास में है और ऐसे माहौल में इस तरह कि होल्डिंग के रूप में शहरों में लगाने का मतलब साफ़ है कि बक़रीद को देखते हुए कुछ अ’सामा’जिक त’त्वों ने बकरीद पर माहौल ख़राब करने नियत से ही यह घि’नौ’नी चल के तौर पर ये होल्डिंग लगाए हैं.

वहीं जब सोशल मीडिया पर वायरल इस तस्वीर कि जानकरी इस्लामिक सेंटर ऑफ़ इंडिया तक पहुंची तो उन्होंने इस पर सख़्त नाराजगी जाहिर की. बात सिर्फ आलोचना करने तक सिमित नहीं रही बल्कि मौलाना ख़ालिद रशीद ने जानकारी मिलते ही इस मामले को लेकर पुलिस कमिश्नर को ख़त लिखा और इस पर आ’प’त्ति जाहिर करते हुए इसे हटाने कि मांग कि.

इसके बाद मामले को तूल पकड़ते देख पुलिस प्रशासन ने इस होल्डिंग कि स’त्यता जा’न कर देर रात केसरबाग़ चौराहे पर लगे इस होल्डिंग को पुलिस प्रशासन ने खुद हटा दिया.