VIDEO: साजिश कर वर्ल्‍ड कप से बहार निकाला, तूफानी बल्‍लेबाज मोहम्मद शहजाद को, समर्थक रह गए दंग

नई दिल्ली: अफगानिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद शहजाद ने सोमवार को कहा कि वह विश्व कप में टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए पूरी तहरे फिट हैं लेकिन देश के क्रिकेट बोर्ड (अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड) ने उन्हें इस टूर्नमेंट से बाहर करने की साजिश रची। पाकिस्तान के खिलाफ अभ्यास मैच में शहजाद का बायां घुटना चोटिल हो गया था लेकिन वह विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया एक जून और श्रीलंका चार जून के खिलाफ टीम के शुरुआती दो मैचों में वह टीम का हिस्सा थे।

मोहम्‍मद शहजाद के आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 से बाहर होने पर हंगामा मचा हुआ है. शह‍जाद का आरोप है कि टीम मैनेजमेंट ने उन्‍हें फिटनेस के बहाने से बाहर किया. वहीं अफगानिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड का कहना है कि शहजाद की फिटेनस ठीक नहीं थी. इस वजह से वह टूर्नामेंट से बाहर हुए. मोहम्‍मद शहजाद ने अफगानिस्‍तान लौटने के बाद मीडिया से बातचीत में गंभीर आरोप लगाए।

Image Source: Google

वापस लौटने के बाद शहजाद ने स्‍थानीय मीडिया से कहा, मैं लंदन में एक डॉक्‍टर से मिला और उसने मेरे घुटने पर कोई मल्‍हम लगाया और एक टेबलेट दी. उसने कहा कि दो-तीन के आराम के बाद मैं खेल सकता हूं. मैंने प्रेक्टिस सेशन में हिस्‍सा लिया, गेंदबाजी की, बल्‍लेबाजी की और कीपिंग सेशन में भी शामिल हुआ में पूरी तहरे फिट था।

इसके बाद टीम साथियों के साथ लंच किया. हम होटल लौटने के लिए बस में बैठ गए. यहां मैंने फोन पर देखा कि मैं वर्ल्‍ड कप से बाहर हो गया हूं. उस समय मुझे पता चला कि मैं अनफिट हूं। उन्‍होंने आगे बताया, ‘मैंने मैनेजर से इस बारे में पूछा उन्‍होंने मुझसे फोन को जेब में रखने और डॉक्‍टर से बात करने को कहा. डॉक्‍टर ने मेरी तरफ बेबसी से देखा और कहा कि वह कुछ नहीं कर सकते. मुझे पता नहीं कि क्‍या समस्‍या है।

यदि उन्‍हें समस्‍या है तो उन्‍हें मुझे बताना चाहिए. यदि वे नहीं चाहते कि मैं खेलूं तो मैं क्रिकेट छोड़ दूंगा. मुझे नहीं लगता कि मैं अब आगे खेल पाऊंगा. वर्ल्‍ड कप में खेलना सपना होता है. मुझे 2015 वर्ल्‍ड कप से हटा दिया गया था और अब भी ऐसा ही हुआ. मैं दोस्‍तों व परिवार से बात करूंगा. मेरा दिल अब क्रिकेट में नहीं लग रहा।

आपको बता दें शहजाद अफगानिस्‍तान की ओर से वनडे में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज हैं. उन्‍होंने 84 मैचों में 33.66 की औसत से 2727 रन बनाए हैं।