VIDEO: स्वरा भास्कर की वेब सीरीज रसभरी के इस सीन पर भड़के प्रसून, छोटी बच्ची से कराया गया उत्तेजक डांस

सोशल मीडिया पर अपनी बेबाकी के लिए मशहूर बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर इन दिनों अपनी अपकमिंग वेबसीरीज रसभरी को लेकर सुर्ख़ियों में बनी हुई है. 26 जून को अमेजन प्राइम वीडियो पर उनकी वेब सीरीज रसभरी को रिलीज किया गया है. लेकिन रसभरी रिलीज के साथ ही विवादों में घिर गई हैं. कई लोग इस वेबसीरिज के कंटेंट को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं. वहीं सोशल मीडिया पर यूजर इस वेबसीरिज को घटिया बता रहे है.

इसी बीच भारत में फिल्मों को नियंत्रित करने वाली संस्था केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के अध्यक्ष और पटकथा लेखक प्रसून जोशी ने वेबसीरिज रसभरी के एक सीन पर अपनी नाराजगी जाहिर की है.

 

रसभरी वेबसीरिज को लेकर प्रसून जोशी ने अपने ट्वीट में कहा कि दुःख हुआ. वेब सिरीज़ रसभरी में असंवेदनशीलता से एक छोटी बच्ची को पुरुषों के सामने उ’त्तेजक डांस करते हुए एक वस्तु की तरह दिखाया गया है जो निंदनीय है. आज रचनाकारों और दर्शक सोचें बात मनोरंजन की नहीं, यहाँ बच्चियों प्रति दृष्टिकोण का प्रश्न है, यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है या शोषण की मनमानी.

स्वरा भास्कर ने प्रसून जोशी के इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया भी दी है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि आदर सहित सर, शायद आप सीन को ग़लत समझ रहे हैं. सीन जो वर्णन किया गया है उसके ठीक उल्टा है.

उन्होंने आगे लिखा कि बच्ची अपने मर्ज़ी से नाच रही है और पिता देख कर झेंप जाता है और शर्मिंदा होता है. नाच उत्तेजक नहीं है, बच्ची बस नाच रही है, वो यह नहीं जानती है कि समाज उसे भी sexualise किया जाएगा. सीन यही दिखाता है.

वहीं स्वरा भास्कर ने इससे पहले 25 जून को रसभरी का ट्रेलर ट्वीटर पर शेयर करते हुए लिखा था कि दोस्तों, रसभरी के जादू से कोई नहीं बच सकता हैं. आजमा के देखें.

वेबसीरिज के इस विवादित सीन में स्वरा भास्कर के बचपन का रोल अदा कर रही बच्ची अपने घर में चल रही पार्टी के दौरान उत्तेजक डांस करती नजर आती है. इस दौरान बच्ची के पिता सहित पार्टी में मौजूद बाकी आदमी शराब पीते हुए बच्ची का डांस देख रहे होते है.

आपको बता दें कि स्वरा भास्कर की रसभरी को पिछले साल ही रिलीज करना था लेकिन किन्हीं वजहों के चलते यह उस वक्त रिलीज नहीं हो सकी. स्वरा भास्कर ने सीरिज में एक अध्यापिका का रोल प्ले किया है जो स्कूल में पढ़ाती हैं और स्कूल के बाहर मर्दों को रिझाने का काम करती हैं.