अजब गज़ब: इन जगहों पर लगता है टैक्स चाहे कद्दू खरीदो या टॉयलेट फ्लश करो

दुनिया भर में करीब 203 देश हैं जिनमे विभिन्न प्रकार के धर्म रिवाज़ और कानून पाए जाते हैं| हर देश की सरकार वहाँ की अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए देश के नागरिकों की आमदनी के हिसाब से उनसे टैक्स बसूलती है| इस पैसे को जनता की भलाई के कामों में ही लगाया जाता है जिससे पूरे देश का लोगों का विकास होता है साथ ही सरकारी खजाने में यह धन जमा करके रखा जाता है ताकि वक़्त आने पर आपातकालीन स्थिति से निपटा जा सके लेकिन ज़रा सोचिए आप कि अगर कद्दू खरीदने या फिर टैटू बनवाने पर टैक्स देना पड़े तो फिर आप क्या करेंगे?

दरअसल आपको बता दें कि एक जगह सचमें ऐसी है जहां पर कद्दू खरीदने से लेकर टॉयलेट के फ्लश करने तक हर चीज पर टैक्स लगता है। अमेरिका को लोग सबसे शक्तिशाली देश के तौर पर जानते हैं लेकिन आपको शायद ये नहीं पता होगा कि यहां के न्यू जर्सी में कद्दू खरीदने के लिए भी टैक्स देना पड़ता है|

वहीँ अगर देखा जाए तो टैटू का शौक तो लगभग हर नौजवान को होता है लेकिन अमेरीकी राज्य अरकंसास में अगर आप टैटू बनवाते हैं तो यहां आपको 6 फीसदी सेल्स टैक्स चुकाना पड़ता है। यही नहीं इससे थोड़ और आगे बढ़कर बात करें तो फिर जरा सोचिए कि अगर टॉयलेट में फ्लश करना हो और इसके लिए आपको टैक्स देना पड़े तो?

दरअसल आपको बता दें कि अमेरिका के मैरीलैंड में सरकार टॉयलेट फ्लश के उपयोग पर लोगों से हर महीने लगभग 355 रुपये टैक्स लेती है। इन पैसों को नालों की साफ-सफाई पर खर्च किया जाता है। वहीँ अगर ताश की बात करें तो आपने भारत में कई लोगों को ताश खेलते देखा होगा लेकिन एक जगह ऐसी भी है जहां ताश खेलने पर भी सरकार को टैक्स देना होता है|

आपको बता दें कि अमेरिका के अलबामा में ताश खेलने के लिए भी टैक्स देना पड़ता है। यहां ताश खरीदने वाले को 10 फीसदी और बेचने वाले को 71 रुपये फीस के साथ ही 213 रुपये हर साल के लाइसेंस के लिए देने पड़ते हैं। हालांकि, ये टैक्स ताश के 54 पत्ते या फिर उससे कम खरीदने वालों पर लागू होता है।

वहीँ अमेरिका के एरिजोना में कभी आप बर्फ का टुकड़ा यानि आइस ब्लॉक मत खरीदिएगा क्योंकि इसके लिए यहां को लोगों को टैक्स देना पड़ता है। वहीं अगर आप यहां आइस क्यूब खरीदते हैं तो फिर आप को कोई टैक्स नहीं देना होगा।

साभारः #Patrika.Com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here