RJD नेता तेजस्वी यादव भड़के इस न्यूज़ चैनल पर, कहा दलाल तेरे जैसे बिकाऊ हमें राजनीति सिखाएंगे, ज़मीर बेच दिया तुमने

RJD (राष्ट्रीय जनता दल) के नेता और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने एक न्यूज़ चैनल को लेकर और इसके पत्रकारों पर आक्रो’श व्यक्त किया है। दरअसल उन्होंने इस चैनल पर विपक्ष की प्रेस कॉन्फ्रेंस को कवर नहीं करने पर जमकर अपनी भड़ा’स निकाली है।

साथ ही तेजस्वी यादव ने इस चैनल पर नीतीश कुमार के पक्ष में रिपोर्टिंग करने का आरोप लगाते हुए कहा कि, यह दलाल, बिकाऊ और ज़मीर बेचने वाला चैनल हमें राजनीति के तौर-तरीके सीखा रहा है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता का यह वीडियो शेयर करते हुए पार्टी ने ट्वीट किया है, “ये न्यूज़ चैनल पिछले 6 महीनों से राजद को राजनीति के चरण सिखा रहा है।

जितना अनुभव इसके भड़’वे संपादकों को पत्रकारिता के फिल्ड का नहीं होगा उससे दो गुना राजनीतिक अनुभव हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को है। 22 साल तक राजद ने सरकारें चलाई है और यह दलाल, बिकाऊ ज़मीर बेचने वाला चैनल हमें राजनीति सिखाने सीखाने पर तुला हुआ है।”

RJD पार्टी ने आगे यह भी ट्वीट किया है कि, “दरअसल इस दलाली के काम को अंजाम देने वाले चैनल और एक इसके संपादक को यह बिल्कुल ही हज़म नहीं हो रहा है कि सालों के सालों बाद भी पक्ष-विपक्ष में रहने के बाद राजद प्रदेश की सबसे बड़ी पार्टी कैसे हो सकती है?”

“न्यूज़18 बिहार ने चुनाव पूर्व नीतीश कुमार से ठेका लिया है”

RJD पार्टी ने चैनल पर एक आरोप लगाते ट्वीट करते हुए लिखा कि, “न्यूज़18 बिहार ने चुनाव पूर्व नीतीश कुमार से ठेका ले लिया है। इस बात का अंदाजा इस बिकाऊ चैनल की 6 महीनों की रिपोर्टिंग विगत देखते ही हो जाता है, जिसमें जनता के हित की कोई बात कहीं भी नहीं है।

साथ ही इस बिकाऊ मिडिया चैनल ने देश में फैली बेरोज़गारी,हर दिन बढ़ती महंगाई, बदतरीन क़ानून व्यवस्था पर कभी आँकड़ो के साथ कोई भी बात नहीं की। इन सभी मुख्य मुद्दों पर विपक्ष की किसी प्रेस भी कॉन्फ़्रेन्स को कवर नहीं किया।”

पार्टी ने अपने एक ओर ट्वीट में लिखा कि, “दलाल चैनल न्यूज़18 बिहार ग़लत तथ्य परोस गुंडागर्दी पर उतर चुका है। इसने अपने इतना ज़मीर को इस हद तक बेच दिया है कि नीतीश के खरीदें हुए गुंडों ने विधानसभा के अंदर इसके रिपोर्टर को बहुत ही बुरी तरह पीटा और फिर भी चैनल अपने आका को खुश करने की चाह में गुम है। विधायकों ने उसे बुरी तरह से पीटा। अगर चैनल चाहे तो हमसे पुरा वीडियो ले सकता है।”

राजद प्रमुख की बात सोलह आना सच

राजद प्रमुख ने न्यूज चैनल को लेकर जो भी बात कही है वह सोलह आना सच है, क्योंकि आज कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक हर राज्य में कुछ गिने-चुने न्युज चैनल को छोड कर हर एक चैनल्स अपनी आका की जीहूजुरी में डूबा हुआ है। इसका ताजातरीन उदाहरण बंगाल इलेक्शन का प्रचार है।

पिछले साल कुछ मिडिया वालों के तौर पर देश में कोरोना “नमस्ते ट्रम्प” कार्यक्रम से नहीं बल्कि जमाती लोगों से आया था। इस बात का बिकाऊ मीडिया जोर शोर से प्रचार कर रहा था, अगर जमाती लोगों के जमा होने से कोरोना फैला था तो फ़िर पिछले हफ्ते में बंगाल में अमित शाह की रेली में जमा भारी भरकम भीड का प्रचार क्यों नहीं हुआ?

पुणे (महाराष्ट्र) की रहने वाली 'बुशरा त्यागी' पिछले 5 वर्षों से एक Freelancer न्यूज़ लेखक (Writer) के तौर पर कार्य कर रही हैं। 16 साल की उम्र से ही इन्होंने शायरी, कहानियाँ, कविताएँ और आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था।