Citizenship Amendment Act: जामिया की जांबाज ‘लादीदा’ और ‘आयशा’ ओवैसी जनसभा में होंगी शामिल

नई दिल्ली: विवा’दित नागरिकता संशोधन एक्ट (Citizenship Amendment Act) के विरोध में पूरा देश ज’ल रहा है। इन विरोध प्रदर्शनों के दौरान जगह-जगह से कई हिं’सक घटनाओं की तस्वीरें भी सामने आ रही हैं। मीडिया इन तस्वीरों का इस्तेमाल प्रदर्शन को कमज़ोर करने के लिए कर रहा है। वही शुक्रवार को दिल्ली समेत उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र में लोग कानून के विरोध में सड़कों पर उतरे और कानून वापस लेने की मांग की है।

आपको बता दें नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल और उत्तर प्रदेश समेत देश भर की कई जगहों पर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। और इसी बीच, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने नागरिकता अधिनियम का विरोध करने के लिए एक जनसभा का आह्वान किया है।

मुस्लि’म एक्शन कमेटी की बैठक में लिया हिस्सा

दरअसल, हैदराबाद के दारुस्सलाम में ये जनसभा बुलाई गई है। इस जनसभा में ‘जामिया मिलिया इस्लामिया’ के छात्र लादीदा सखालून फरजाना और आयशा रेन्ना, जो हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी और अन्य मुस्लि’म नेताओं के साथ मंच साझा करेंगी

हलाकि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर ‘ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन’ (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद में यूनाइटेड मुस्लि’म एक्शन कमेटी की बैठक शामिल हुए। और इस बैठक का आयोजन (एआईएमआईएम) की हैदराबाद स्थित हेड ऑफिस में किया गया था।

इस बैठक के दौरान औवैसी ने कहा कि हमें नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) का शांति के साथ पुरजोर विरोध करना है। साथ ही पुलिस की अनुमित लेने के बाद प्रदर्शन की बात कही थी।

औवैसी ने ये भी कहा कि लेकिन हम हिं’सा की निंदा करते हैं। जो कोई भी हिं’सा में शामिल है वह पूरे विरोध का दुश्मन है। उन्होंने कहा कि विरोध प्रदर्शन करें लेकिन, शांति से।

Leave a Comment