VIDEO: TikTok और You Tube के बीच छिड़ी जं’ग के बीच झारखंड के गरीब भाई-बहन का वीडियो हुआ वायरल, लोगों ने पूछा- क्या ये दलितों का…

देश भर में लॉकडाउन को दो महीने से ज्यादा हो चूका है और इस बीच लोग सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा एक्टिव है. इस बीच टिक टॉक मोबाइल ऐप पर वीडियो बनाने का शौक भी लोगों को खूब लग गया है. टिकटोक पर वायरल होने के लिए लोग कई तरह के वीडियो बनाते है और फमेस होने की कोशिश करते हैं. लॉकडाउन के चलते टिकटोक पर भी यूजर की मौजूदगी पहले की तुलना में बढ़ गई हैं.

वहीं पिछले कुछ समय से टिक-टोक और यूट्यूब के यूजर्स के बीच जं’ग छिड़ी हुई है. जिसके चलते आए दिन नए-नए ट्रेंड ट्वीटर पर देखने को मिलते है. यह विवाद काफी समय से चल रहा है और थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. आपको बता दें कि पिछले दिनों प्ले स्टोर पर वीडियो मेकिंग प्लेटफॉर्म टिकटोक की रेटिंग गिर गई थी.

यहां कुछ समय पहले तक टिक टॉक की रेटिंग 4.8 थी और देखते ही देखते यह गिरकर सिर्फ 1.2 रह गई. दरअसल टिक-टोक और यूट्यूब की जं’ग में शामिल यूट्यूब को पसंद करने वाले यूजर्स  प्लेस्टोर पर जाकर टिकटॉक को 1 स्टार दे रहे हैं. इसी के चलते इसकी रेंटिग गिरना शुरू हो गई.

इस दौरान करीब 80 लाख लोगों ने टिक-टोक को रिव्यू दिया और साथ ही इसे भारत में बैन करने की मांग भी उठाई. वहीं इस बीच टिक टॉक को पसंद करने वाले लोग यूट्यूब को कम रेटिंग देने में लग गए. इस दौरान लगातार टिक-टोक को बैन करने से संबंधित हैशटैग ट्वीटर पर ट्रेंड करते रहे.

सोशल मीडिया के लगभग सभी प्लेटफार्म के यूजर्स इसमें दिलचस्पी दिखा रहे थे. दोनों ही प्लेटफॉर्म के यूजर्स के शामिल होने के चलते यूट्यूब वर्सेज टिक टॉक का माहौल बन गया. इसी के चलते यूट्यूब और टिक टॉक के बीच बेहतर प्लेटफॉर्म को लेकर चल रही यह वर्चुअल जं’ग तेज होती रही.

यूट्यूब वर्सेज टिक टॉक की इस जं’ग के बीच झारखंड के एक भाई-बहन सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे है. इन गरीब भाई-बहन की वीडियो सोशल मीडिया यूजर्स काफी पसंद कर रहे है. इसी बीच ज्योति यादव नाम की एक पत्रकार ने भी इस वीडियो को शेयर किया.

 

View this post on Instagram

 

Me and my sister ..please support🙏 #sisbro #chandatare #dance #viral #dancersanatan #nachde #did #tiktok

A post shared by sanatan tiktoker 869k fans 🔵 (@dancer_sanatan) on

वीडियो को शेयर करते हुए ज्योति ने लिखा कि झारखंड की यह प्रतिभा देखिए. फुल एंटरटेनमेंट. दलित-पिछड़ों-गरीबों का प्लेटफॉर्म है टिकटॉक. इसी के चलते ही टिकटॉक को बार बार नफरत का भी शिकार होना पड़ता है.